Monday , December 18 2017

मोदी सरकार की नीतियों के खिलाफ आज देश भर के श्रमिक संगठनो का धरना प्रदर्शन

सांकेतिक तस्वीर

देश के प्रमुख श्रमिक संगठन बढ़ती महंगाई और सरकार की आर्थिक नीतियों के विरोध में गुरुवार से अपनी 12 सूत्री मांगों को लेकर तीन दिन तक संसद भवन के समक्ष धरना प्रदर्शन करेंगे।

हालांकि केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री संतोष गंगवार ने मंगलवार को मजदूर नेताओं के साथ लगभग चार घंटे तक बैठक की थी। इस दौरान उन्होंने धरने प्रदर्शन टालने की अपील की थी, लेकिन वह कोई ठोस आश्वासन देने में नाकाम रहे। श्रमिक नेताओं ने आरोप लगाया कि श्रमिक मुद्दों पर गठित मंत्रि समूह भी मजदूरों के हितों की रक्षा करने में असफल रहा है।

श्रमिक संगठनों के प्रमुख नेताओं ने बुधवार को एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में धरना प्रदर्शन करने के अपने फैसले पर अडिग रहने की जानकारी दी और कहा कि सरकार मजदूरों को इसके लिए बाध्य कर रही है। इसलिए देश के श्रमिक नौ से 11 नवंबर तक संसद भवन के समक्ष जुटेंगे और अपनी मांगों पर जोर देंगे। गौरतलब है कि सरकार ने लगभग तीन साल पहले श्रम सुधारों के मुद्दों पर श्रमिक संगठनों के साथ बातचीत करने के लिए केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली की अध्यक्षता में एक मंत्रिसमूह का गठन किया था।

TOPPOPULARRECENT