Thursday , December 14 2017

पुणे यूनिवर्सिटी ने शाकाहारी होने और नशा न करने पर गोल्ड मिलने वाला सर्कुलर वापस लिया

पुणे: पुणे के सावित्रि बाई फुले विश्वविद्यालय के शाकाहारी वाले सर्कुलर पर बवाल मचने के बाद यूनिवर्सिटी प्रशासन ने उस सर्कुलर को वापिस ले लिया है

जिसमें विश्वविद्यालय ने कहा था कि किसी भी छात्र को गोल्ड मेडल पाने के लिए जरूरी है कि वो कोई भी नशा न करता हो और वो पूर्ण रूप से शाकाहारी हो. इस सर्कुलर पर शिवसेना और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की तरफ से तीखी प्रतिक्रिया मिली थी.

यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार अरविंद शालीग्राम ने कहा कि हमने दस साल पुराने सर्कुलर पर आपत्ति दर्ज की जाने के बाद, उसे वापस ले लिया है. अब हम इस विशेष शर्त को खत्म करने के लिए शेलार परिवार को चिट्ठी लिखेंगे

बता दें कि उन्होंने कल कहा था कि ये सर्कुलर 2006 से जारी होता है. चूंकि ये मेडल शेलार परिवार की ओर से दिया जाता है, इसलिए उनकी अपनी शर्तें होती हैं.

TOPPOPULARRECENT