बैंक घोटाले में शामिल रेल मंत्री इस्तीफा दें, जज से कराई जाए जाँच: कांग्रेस

बैंक घोटाले में शामिल रेल मंत्री इस्तीफा दें, जज से कराई जाए जाँच: कांग्रेस
Click for full image

नई दिल्ली: कांग्रेस ने कोयला और रेल मंत्री पीयूष गोयल पर 1800 करोड़ रुपये के बैंक ऋण घोटाले में शामिल होने का आरोप लगाते हुए कल उन्हें मंत्रिमंडल से हटाने और पूरे मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट के मौजूदा जज से कराने की मांग की है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने यहां पार्टी मुख्यालय में सामान्य ब्रीफिंग में आरोप लगाया कि मोदी मंत्रिमंडल के प्रभावशाली मंत्री श्री गोयल बैंक ऋण घोटाला करने वाले नेटवर्क में शामिल हैं। इस लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उन्हें केंद्रीय मंत्रिमंडल से हटा देना चाहिए और इस मामले की जांच सर्वोच्च न्यायालय के मौजूदा न्यायाधीश द्वारा की जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि शिरडी इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने 651.87 करोड़ रुपये बैंक ऋण लिया था, जिसे चुकाने में सरकार में 65 फीसदी की छूट दी है। इस कंपनी के निदेशक के पद से श्री गोयल ने मंत्री पद पाने से एक दिन पहले इस्तीफा दिया था।

उन्होंने कहा कि इसी तरह से असीस प्लाईवुड लिमिटेड ने 458 करोड़ रुपये का बैंक ऋण लिया था, जिसे भुगतान नहीं किया गया। एक अन्य कंपनी असीस इंडिया इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड ने 457 करोड़ रुपये का ऋण लिया है और उसने सभी गुणवत्ता पूरे नहीं किए हैं। असीस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ने 285 करोड़ रुपये का कर्ज लिया और उसे चुकाने में विफल रही है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि इन सभी कंपनियों के निदेशक में श्री गोयल के रिश्तेदार या उनके गहरे दोस्त शामिल हैं। इसके अलावा ये सभी कंपनियां एक ही पते पर पंजीकृत हैं और उनका ईमेल एड्रेस एक ही है।

Top Stories