Friday , December 15 2017

अलवर में मारे गए ‘उमर’ हुए सुपुर्द- ए- खाक, उधर पत्नी ने दिया बेटे को जन्म

भरतपुर। राजस्थान के भरतपुर में पहाड़ी थाने के गांव घाटमीका निवासी उमर मेव की 6 दिन पूर्व अलवर के गोबिंदगढ़ में गौ तस्करी के दौरान गोली लगने से मौत हो गई जिसके बाद मृतक उमर की पत्नी ने कल शाम को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहाड़ी में लड़के को जन्म दिया है।

जन्म देने के उपरांत उमर की पत्नी खुर्शीदन की तबीयत खराब हो गई जिसे चिकित्सकों ने जिला अस्पताल रैफर कर दिया ।

सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहाड़ी के चिकित्सा अधिकारी प्रभारी डॉ नरेंद्र व्यास ने बताया कि घाटमीका गांव निवासी मृतक उमर की पत्नी प्रसव पीड़ा होने पर पहाड़ी अस्पताल में भर्ती हुई जहां उसका ही मोग्लोबिन बहुत कम था लेकिन प्रसव करा दिया, जिसने लड़के को जन्म दिया।

लड़के को पूर्ण रुप से स्वस्थ बताया गया है, लेकिन प्रसूता खुर्शीदन की हालत गंभीर होने पर जिला अस्पताल रैफर कर दिया गया ।

वहीं मृतक की पत्नी ने बताया कि पुत्र जन्म के बाद भी पत्नी को खुशी नहीं हुई क्योंकि उसके पति की गौवंश लाने के दौरान गौरक्षकों की गोली लगने से मौत हो गई| मृतक की पत्नी के अनुसार बच्चे के जन्म से पहले ही पिता का साया उठ गया।

इसलिए क्या खुशी मनाएं कहती नजर आई साथ ही अस्पताल प्रशासन ने प्रसूता को हायर सेंटर के लिए रैफर कर दिया, लेकिन प्रसूता को परिवारजन हायर सेंटर ले जाने की वजह घर ही ले गए।

TOPPOPULARRECENT