Friday , December 15 2017

राजस्थान सरकार का एक और विवादास्पद निर्णय, कट्टरपंथ से भरे मेले में बच्चों ले जाने का दिया फ़रमान

अंधविश्वास और कट्टरपंथ से भरे मेले में बच्चों को भेज रही है  सरकार जिस निजी मेले में स्कूली छात्रों को राजस्थान सरकार भेज रही है वहां लव जिहाद और जर्सी गाय का दूध पीने से कैंसर, पैरालेसिस होता है बताया जा रहा है राजस्थान की वसुंधरा सरकार ने लव जिहाद के बारे में जानकारी और गाय को राष्ट्रीय माता घोषित करने के लिए स्कूल टीचरों को निर्देश दिये हैं. जिसमें कहा गया है कि टीचर सभी छात्रों को जयपुर में चल रहे आध्यात्मिक मेले में ले जाएं. जिससे वे लव जिहाद और ईसाइयों द्वारा किए गए षड़यंत्र के बारे में किताबें खरीदर जानकारी कर सकें. निर्देश में ये भी कहा गया है कि गाय को राष्ट्रीय माता का दर्जा देने के हस्ताक्षर अभियान में शामिल हो और साथ शाकाहारी बनने की भी शपथ लें.

एक रिपोर्ट के मुताबिक स्कूल ने बच्चों को मेले मे भेजेने से मना  भी किया है. इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक  जयपुर के शिक्षा विभाग के अधिकारी दीपक शुक्ला ने इसकी पुष्टि भी की है. बताया जा रहा है कि इसका आदेश राज्य के शिक्षामंत्री वासुदेव देवनानी की तरफ से आया है.  शुक्ला ने साथ में यह भी कहा कि यह निर्देश प्राइमरी एंड सेकेंडरी एजुकेशन मिनिस्टर वसुदेव देवनानी के ऑफिस से आया है. वहीं जयपुर स्कूलों का कहना है कि वे तब तक इस निर्देश का पालन नहीं करेंगे, जब तक कि प्राइमरी एंड सेकेंडरी एजुकेशन मिनिस्टर के ऑफिस से कोई आधिकारिक बयान नहीं आ जाता.

मेले के आयोजक इससे पहले अपने स्तर पर स्कूलों से इस मेले में आने की बात कर रहे थे. इस आदेश के बाद सरकार भी 20 नवंबर तक चलने वाले एक निजी मेले में स्कूलों से शामिल होने की अपील कर रही है. सरकार के आदेश के अलावा एक और विवाद इस मेले में जुड़ा है. वीएचपी के स्टॉल पर मिल रही एक किताब में सैफ अली खान और आमिर खान पर हिंदू लड़कियों से शादी करने और उन्हें छोड़ देने की बात कही गई है. इसके अलावा ब्यूटी पार्लर, मोबाइल शॉप, टेलर वगैरह के आसपास लव जिहादियों के होने की बात कही गई है. इन सबके अलावा जर्सी गाय के दूध से कैंसर, पैरालेसिस होता है. भारत एक हिंदू राष्ट्र बने, जैसे कई और अंधविश्वास और भ्रामक तथ्य भी मेले के अलग-अलग स्टॉल्स पर लगाए गए हैं

TOPPOPULARRECENT