Monday , May 21 2018

राजस्थान में मजदूरी करने गए शाकिर की संदिग्ध मौत, शरीर पर तेज़ाब के निशान, कहीं ये अफराज़ुल पार्ट 2 तो नहीं ?

फोटो- इंडियन एक्सप्रेस

राजस्थान में पश्चिम बंगाल के एक मजदूर की संदिग्ध हालत में मौत का मामला सामने आया है।  इंडियन एक्सप्रेस की ख़बर के मुताबिक मालदा के चांचोल पुलिस स्टेशन के स्वरुपनगर गांव के रहने वाले साकिर अली की मौत जयपुर में हो गई थी। 38 साल के साकिर अली के शरीर पर तेजाब के निशान पाए गए । वहीँ इंडियन एक्सप्रेस से फोन पर शाकिर अली के भाई जाकिर अली ने कहा, ‘शाकिर  के शरीर पर जख्म और तेजाब से जले होने के निशान थे, राजस्थान पुलिस इसे आत्महत्या का मामला बता रही है, लेकिन हमें लगता है कि हमारे भाई का कत्ल किया गया है, हम CBI से इस मामले की जांच की मांग करते हैं ।

शाकिर  के भाई ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया, ‘मंगलवार (16 जनवरी) की शाम को एक मजदूर ने हमलोगों को फोन कर बताया कि साकिर अपने कमरे में मरा हुआ पाया गया है, हमने अपने बड़े भाई अनवारुल को सूचना दी जो कि जयपुर में ही रहता है, जब वह वहां पहुंचे तो कमरे में उसका शव पड़ा हुआ था, उसके शरीर पर जख्म और एसिड के निशान थे।’ खबर के मुताबिक शुक्रवार (19 जनवरी) को शाकिर की डेड बॉडी उसके गांव में लाई गई और उसे सुपुर्द-ए-खाक कर दिया  गया।

जाकिर के घरवालों ने कहा कि उसका भाई जिस ठेकेदार के यहां काम करता था उसने जल्दबाजी में लाश को पश्चिम बंगाल भिजवा दिया।’ साकिर की शादी 15 साल पहले हुई थी, तब वह मुंबई में रहता था, लेकिन 5 साल पहले उसका अपनी पत्नी से तलाक हो चुका था, अब राजस्थान में अकेले रहता था।

उसके परिवार वालों ने आरोप लगाया है कि ये साफ-साफ हत्या का मामला है, खबर के मुताबिक  शाकिर के साथ 10 से 12 लोग रहते हैं लेकिन किसी ने कुछ नहीं देखा, ऐसा कैसे हो सकता है कि रूम में कोई मौजूद ना हो, वो सभी अभी फरार हैं।’ बता दें कि कुछ ही दिन पहले राजस्थान के ही राजसमंद में मुहम्मद अफराजुल नाम के शख्स की शंभूलाल ने हत्या कर दी थी। राजस्थान के रहने वाले शंभूलाल ने अफराजुल खान की हत्या को रिकॉर्ड किया था और इसे लव जिहाद का मामला बताकर सोशल मीडिया पर डाल दिया था। वही सोशल मीडिया पर लोग शाकिर की संदिग्ध मौत को अफराज़ुल की हत्या जैसा ही बता रहे हैं. एक यूजर ने लिखा कहीं ये अफराज़ुल पार्ट 2 तो नहीं ?

 

सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस

TOPPOPULARRECENT