भारी हंगामे के बाद राज्यसभा की कार्रवाई कल तक के लिए स्थगित!

भारी हंगामे के बाद राज्यसभा की कार्रवाई कल तक के लिए स्थगित!

संसद के मानसून सत्र की आज 7वां दिन है। कृषि से जुड़े तीन विधेयकों पर आज संसद की अंतिम मुहर लग गई है। विपक्ष के भारी हंगामे के बीच राज्यसभा में कृषि बिल ध्वनि मत से पास हो गया है।

जागरण डॉट कॉम पर छपी खबर के अनुसार, लोकसभा से ये बिल पहले ही पास हो चुके हैं। बिल के खिलाफ विपक्ष के सांसदों ने वेल में उतरकर जोरदार हंगामा किया।

टीएमसी सांसद डेरेक ओ’ ब्रायन ने राज्यसभा के उप सभापति हरिवंश से सामने रूल बुक को भी फाड़ दिया। राज्यसभा काी कार्यवाही को कल तक के लिए स्‍थगि‍त कर दिया गया है।

राज्‍यसभा के उप सभापति हरिवंश के खिलाफ कांग्रेस ने अविश्‍वास प्रस्‍ताव लाने की बात कही है। कांग्रेस ने उप सभापति हरिवंश पर अलोकतांत्रिक व्‍यवहार करने का आरोप लगाया है।

राज्यसभा में कृषि से विधेयकों (Agriculture Bill) पेश किए जाने के दौरान सदन में जमकर हंगामा हुआ। संसद की मर्यादा उस वक्‍त तार तार हो गई जब सदस्य वेल तक पहुंच गए और बिल की कॉपी भी फाड़ दी।

सदस्‍यों ने कथित धक्का मुक्की में कोविड के नियमों का भी ध्यान नहीं रखा। इस घटना के बाद राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू के आवास पर उच्च स्तरीय बैठक चल रही है। इस बैठक में राज्यसभा के उप सभापति हरिवंश, केंद्रीय मंत्री पियूष गोयल और संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी मौजूद हैं।

केंद्रीय कृषि मंत्री ने कहा कि राज्यसभा में चर्चा ठीक हो रही थी, बिल बहुमत से पास होने वाले थे।

जब कांग्रेस को लगा कि वो बहुमत में नहीं है तो वो गुंडागर्दी पर उतर आए। आज कांग्रेस ने आपातकाल के बाद फिर एक बार ये सिद्ध कर दिया कि इस कांग्रेस का लोकतंत्र और प्रजातंत्र पर भरोसा नहीं है।

राज्यसभा की कार्यवाही फिर शुरू हो गई है। कृषि बिल को लेकर विपक्षी सांसद सदन के वेल में नारे लगा रहे हैं। राज्यसभा के उप सभापति हरिवंश ने उन्हें अपनी सीटों पर लौटने के लिए कहा। टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि सरकार ने संसद का हर नियम को तोड़ दिया है।

राज्यसभा में कृषि बिल पर जोरदार हंगामा हो रहा है। टीएमसी सांसद डेरेक ओ’ ब्रायन और सदन के अन्य सदस्यों ने कृषि बिलों पर चर्चा के दौरान वेल में प्रवेश किया।

इस दौरान डेरेक ओ’ ब्रायन ने राज्यसभा के उप सभापति हरिवंश से सामने रूल बुक को फाड़ दिया। इसके बाद राज्यसभा का कार्यवाही को स्थग्त कर दिया गया है।

Top Stories