Tuesday , December 12 2017

रामविलास ने लगाया भाजपा के राम मंदिर एजेन्डे को पलीता, कहा- अयोध्या का समाधान अदालत के ज़रिए हो

यूपी में ऐतिहासिक जीत हासिल करने वाली भाजपा के लिए राम मंदिर एक बड़ा मुद्दा है। आए दिन पार्टी के नेताओं की तरफ से मंदिर को लेकर बयान आ ही जा रहें हैं। इस बीच केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान का एक बयान सामने आया है, जो शायद पार्टी के भीतर कई नेताओं को गवारा न गुज़रे। रामविलास पासवान ने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि अयोध्या का समाधान अदालत के फैसले से निकलना चाहिए।

केंद्रीय उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री रामविलास पासवान ने पटना में एक संवाददाता सम्मेलन में ये बाते कही है। राम विलास पासवान की पार्टी केन्द्र में बीजेपी के साथ गठबंधन में है और एनडीए का घटक दल है।

अब सवाल ये उठता है कि राम मंदिर और बाबरी मस्ज़िद विवाद के नाम साँस लेने वाली भारतीय जनता पार्टी की केन्द्र और राज्य दोनों जगह पर अपनी सरकार बन चुकी है। उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा 325 सींटे हासिल करके भाजपा ने इतिहास रच दिया है, ज़ाहिर है राज्य सभा में बीजेपी के ज्य़ादा सदस्य होने वाले हैं और लोकसभा में बीजेपी पहले से ही बहुमत में है।

बीजेपी के राम मंदिर बनवाना कोई मुश्किल बात नहीं रह गई। लेकिन इसी राम मंदिर ने बीजेपी को सत्ता के गलियारे से उठाकर देश की राजनीति में पहुंचाया ऐसे में रामविलास पासवान का ये बयान राम मंदिर निर्माण के सपने को प​लीता लगाता नज़र आ रहा है।

 

TOPPOPULARRECENT