Saturday , July 21 2018

मोहन भागवत के बाद अब राष्ट्रपति पद के लिए आगे आया रतन टाटा का नाम

राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल मई में ख़त्म होने जा रहा है। ऐसे में अगले राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार ढूंढने की प्रक्रिया जारी है। बहुमत के हिसाब से भाजपा प्रत्याशी की जीत लगभग तय मानी जा रही है।

इस सिलसिले में कुछ दिन पहले ख़बर आयी थी कि आर एस एस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मोहन भगवत भारत के अगले राष्ट्रपति बन सकते हैं लेकिन भागवत ने राष्ट्रपति बनने से इनकार कर दिया है। अब अगला नाम रतन टाटा का आया है।

संघ के करीबी बता रहे हैं कि एनडीए से संभावित नामों में उद्योगपति रतन टाटा का नाम सबसे आगे चल रहा है। मोहन भागवत ने बुधवार को नागपुर में वेटरनरी चिकित्सकों को संबोधित करते हुए अपनी मंशा साफ कर दी। उन्होंने कहा क ‘मीडिया में जो खबर है वह तो होने से रहा। संघ (आरएसएस) में आने के बाद हम इन सब संभावनाओं के दरवाजे बंद करके आते हैं।

सूत्रों की मानें तो इस बहस में मौजूदा स्थिति में उद्योगपति और टाटा समूह के सर्वेसर्वा रतन टाटा का नाम आगे है। इस नाम पर संघ परिवार का नजरिया सकारात्मक तो है ही साथ ही बीजेपी को उम्मीद है कि एनडीए और विपक्ष इस नाम पर आसानी से राजी हो जाएगा।

एनडीए के लिए मौजूदा स्थिति में इस साल के जुलाई महीने के अंत में होने वाले राष्ट्रपति का चुनाव जीतना टेढ़ी खीर है। क्योंकि राज्यों में उसके पास अधिक वोट भले ही हों संसद के दोनों सदनों की ताकत में वह विपक्ष के मुकाबले कमजोर है।

हालांकि इस सुगबुगाहट को लेकर टाटा समूह की ओर से कोई प्रतिक्रिया अभी तक नहीं दी गई है।

TOPPOPULARRECENT