Wednesday , December 13 2017

मोदी-योगी के राज में क्या बच्चों को ‘बाल गाय’ घोषित करके उनकी जान बचानी होगी: रवीश कुमार

अगर वीडियो प्रमाण ज़रूरी है तो पहले स्वच्छ भारत के तहत जिन लोगों ने शौचालय बनवाया है उन्हें अपनी शौच क्रिया की वीडियो रिकार्डिंग करनी चाहिए। इस राष्ट्रीय कार्य का वीडियो प्रमाण होना ज़रूरी किया जाए। एक हाथ में लोटा और एक हाथ में वीडियो कैमरा लेकर चलें। बाकी आप समझदार हैं। शौच की प्रत्येक क्रिया को आधार से जोड़ दें।

कहीं कोई नहीं मरा है,
ज़िंदा है जो वही मरा है ।

अस्पतालों की हालत में सुधार होने से रहा। इस वक्त ज़रूरी है कि हम बच्चों को ‘बाल गाय’ घोषित कर दें। फिर उन्हें कुछ नहीं होगा।ज़्यादातर सरकारों की अस्पतालों का यही हाल है। मूल सवालों की तरफ लौटिये।

 

TOPPOPULARRECENT