Tuesday , December 19 2017

यूपी मे मदरसा रजिस्ट्रेशन कराने की तारीख सरकार ने बढाई

 यूपी  सरकार ने मदरसों को कुछ और राहत देते हुए शासकीय पोर्टल पर अपनी सूचनाएं डालने के लिये उन्हें 15 दिन का और समय दे दिया है।

उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा बोर्ड के रजिस्ट्रार राहुल गुप्ता ने आज ‘भाषा’ को बताया कि सरकार ने मदरसों को अपनी सूचनाएं ऑनलाइन पोर्टल पर डालने के लिये 15 दिन का और समय दिया है। पहले ऐसा करने की अंतिम तारीख 30 सितम्बर थी, जो अब 15 अक्तूबर कर दी गयी है।

उन्होंने बताया कि अभी तक कुल 19 हजार में से 13 हजार 53 मदरसों ने अपनी सूचनाएं वेब पोर्टल पर डाल दी हैं। वहीं, 17 हजार 635 मदरसे अपना पंजीयन करा चुके हैं। बाकी बचे मदरसे भी पोर्टल पर सूचनाएं भर रहे हैं।

मालूम हो कि पूर्व में सरकार ने मदरसों के ऑनलाइन पोर्टल पर अपनी सूचनाएं डालने की आखिरी तारीख 15 सितम्बर तय की थी, मगर पोर्टल में व्याप्त खामियों के मद्देनजर इस अवधि को 15 दिन बढ़ा दिया गया था। अब इसे इतनी ही मीयाद के लिये और बढ़ाया गया है।

प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने गत 18 अगस्त को एक वेब पोर्टल जारी करते हुए सभी मदरसों से उस पर अपनी प्रबन्ध समिति के सदस्यों, मदरसे में पढ़ाने वाले शिक्षकों, विद्यार्थियों इत्यादि की जानकारी 15 सितम्बर तक पोर्टल पर उपलब्ध कराने के आदेश दिये थे।

सरकार का मकसद मदरसों में होने वाली अनियमितताओं को रोकना और शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार करना है। प्रदेश में मान्यता प्राप्त 19 हजार, आंशिक अनुदान वाले लगभग 4,600 और 100 प्रतिशत अनुदान पाने वाले 560 मदरसे हैं।

टीचर्स एसोसिएशन ऑफ मदारिस अरबिया उत्तर प्रदेश के महासचिव दीवान साहब जमां ने सरकार द्वारा पोर्टल पर जानकारी अपलोड करने का समय 15 दिन बढ़ाये जाने पर संतोष जाहिर करते हुए कहा कि अब ज्यादातर मदरसे अपनी सूचनाएं वेब पोर्टल पर डाल रहे हैं। चूंकि सरकार ने और समय दे दिया, इसलिये जो दिक्कतें पेश आ रही थीं, वे अब लगभग दूर हो चुकी हैं।

ज्ञातव्य है कि लखनऊ के अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी बालेन्दु कुमार द्विवेदी ने गत 12 सितम्बर को मदरसा बोर्ड के रजिस्ट्रार राहुल गुप्ता को पत्र लिखकर पोर्टल में सूचनाएं अपलोड करने में आ रही कई कठिनाइयों का जिक्र किया था।

TOPPOPULARRECENT