Thursday , December 14 2017

अमेरिकी रिपोर्ट: मुसलमानों के ख़िलाफ़ हिंसक घटनाओं में इज़ाफ़ा

अमरीका के अंतरराष्ट्रीय धार्मिक स्वतंत्रता आयोग (यूएससीआईआरएफ) ने भारत को दुनिया के ऐसे 12 देशों की सूची में रखा है जहाँ लोगों की धार्मिक स्वतंत्रता सिकुड़ती जा रही है।

रिपोर्ट के मुताबिक़, साल 2016 में भारत में धार्मिक सहिष्णुता और धार्मिक स्वतंत्रता की स्थिति काफ़ी बिगड़ी हुई रही। यह रिपोर्ट बुधवार को जारी की गई है।

रिपोर्ट कहती है कि इस साल अल्पसंख्यकों को हिंदूवादी संगठनों की हिंसा और प्रताड़ना का शिकार होना पड़ा।

आरएसएस, विश्व हिंदू परिषद और उनके समर्थक संगठनों ने मुसलमानों और दलितों के खिलाफ कई हिंसक घटनाएं अंजाम दी। ये घटनाएं भारत के 29 राज्यों में से 10 में सबसे ज्यादा हुईं।

आयोग ने गाय को भी इस हिंसा का ज़िम्मेदार माना है।

हालाँकि भारत का संविधान अल्पसंख्यको को बराबरी और धार्मिक स्वतंत्रता का अधिकार देता है, लेकिन इसके उलट सरकारें और तथाकथित राष्ट्रवादी उनसे ये अधिकार छीनना चाहते हैं।

पैनल ने कहा है कि इन सब वजह से यूएससीआईआरएफ ने फिर से भारत को अपने टियर 2 पर रखा है, जहां यह 2009 के बाद से है।

इसी सूची में अन्य 11 देशों में अफगानिस्तान, अजरबैजान, बहरीन, क्यूबा, ​​मिस्र, इंडोनेशिया, इराक, कजाखस्तान, लाओस, मलेशिया और तुर्की शामिल हैं।

 

TOPPOPULARRECENT