Monday , April 23 2018

हैदराबाद : मुस्लिम युवाओं के खिलाफ रिपब्लिक टीवी का ‘फेक न्यूज़’ वाला मामला होगा बंद

हैदराबाद। हैदराबाद पुलिस ने तीन मुस्लिम युवकों के खिलाफ देशद्रोह के मामले को बंद करने का फैसला किया है। द इंडियन एक्सप्रेस ने सोमवार को कहा कि रिपब्लिक टीवी ने इनके स्टिंग ऑपरेशन के मूल टेप प्रदान करने से इंकार कर दिया।

आठ महीने पहले, 16 मई को अर्नब गोस्वामी ने रिपब्लिक टीवी पर स्टिंग ऑपरेशन के क्लिप प्रसारित किए थे जिसमें अब्‍दुल्‍ला बासित, सलमान मोहीउद्दीन और अब्‍दुल हनान कुरैशी आईएसआईएस के प्रति अपनी निष्ठा बखूबी दिखाते हैं।

रिपब्लिक टीवी की फेक न्यूज़ के परिणामस्वरूप हैदराबाद पुलिस के विशेष जांच दल (एसआईटी) ने तीन युवकों को बुलाया और उनके खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज़ किया।
 
अब पुलिस ने कहा कि फुटेज के आधार पर उनके खिलाफ कोई सबूत नहीं मिला। डीसीपी (डिटेक्टिव डिपार्टमेंट, सेंट्रल क्राइम स्टेशन) अविनाश मोहंती ने द इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि रिपब्लिक टीवी से अप्रकाशित टेप की मांग की और उन्हें पर्याप्त समय दिया लेकिन उन्होंने जवाब नहीं दिया, इसलिए हमने मामले को क्लोजर रिपोर्ट के लिए अदालत में भेजा।

वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि टेप प्रदान करने के लिए कई बार टीवी चैनल से पूछने के बावजूद केवल उन्हें संपादित संस्करण प्रदान किया गया। इस बीच, रिपब्लिक टीवी ने पुलिस के दावे को नकार दिया। न्यूज चैनल ने इंडियन एक्सप्रेस को एक ईमेल में कहा कि हमारे रिपोर्टर ने लिखित रूप में यह पेशकश की है कि उसका बयान हैदराबाद पुलिस द्वारा दर्ज किया गया है।

अब पुलिस का कहना है कि न्‍यूज चैनल के द्वारा मूल टेप उपलब्‍ध नहीं कराने के कारण इस मामले को बंद करने का फैसला किया है। गौरतलब है इससे पहले भी रिपब्लिक टीवी पर कई बार फर्जी खबरे चलाने का भी आरोप लग चूका है।

TOPPOPULARRECENT