Thursday , August 16 2018

हैदराबाद में सादगी से निकाह करने का प्रस्ताव पारित

हैदराबाद। महजबी प्रमुखों, इस्लामी विद्वानों, काज़ियों और पुलिस अधिकारियों की एक बैठक मंगलवार को हुई जिसमें सादगी से निकाह करने का प्रस्ताव पारित किया गया ताकि मुस्लिम समुदाय को विवाह करना आसान हो सके।

तेलंगाना राज्य वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष मोहम्मद सलीम द्वारा बुलाई गई बैठक में हैदराबाद पुलिस आयुक्त वी.वी. श्रीनिवास राव, मुफ्ती खलील अहमद, कुबूल पाशा सत्तारी, जमात-ए-इस्लामी के हमीद मोहम्मद खान, मौलाना जाफर पाशा और अन्य धार्मिक विद्वान उपस्थित थे। बैठक में कहा गया कि किसी को भी दहेज की मांग नहीं करनी चाहिए।

‘निकाह’ ईशा की नमाज के बाद ‘मस्जिद’ में किया जाना चाहिए। पूरे समारोह के सभी कामों को आधी रात तक पूरा किया जाना चाहिए। ऑर्केस्ट्रा कार्यक्रम, नर्तक, बैंड या हथियारों के साथ नृत्य, भव्य रात्रिभोज जो देर रात तक आयोजित होते हैं, के बहिष्कार का आह्वान किया गया है।

बैठक में प्रस्ताव रखा गया कि क़ाज़ी 9 बजे के बाद निकाह नहीं पढ़ाएंगे। सभी फ़ंक्शंस हॉल में बिजली की आपूर्ति आधी रात को डिस्कनेक्ट हो जाएगी इसलिए पूरे समारोह को 12 बजे से पहले पूरा किया जाना चाहिए। रात्रि का खाना एकदम सादा होना चाहिए और इसमें बिरयानी, करी, दही और एक मिठाई शामिल है। इस दौरान किसी प्रकार के हथियार का कोई प्रदर्शन नहीं होना चाहिए।

बारात के दौरान किसी भी तरह के हथियारों के प्रदर्शन के मामले में तुरंत पुलिस अधिकारियों को सूचित किया जायेगा और शस्त्र अधिनियम के तहत संबंधित व्यक्ति के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाएगा। हालांकि, पुलिस आयुक्त ने कहा कि अगर पुलिस इस संबंध में दिशानिर्देश जारी करती है तो पुलिस अधिकारियों के लिए यह प्रणाली लागू करना आसान होगा।

TOPPOPULARRECENT