Friday , December 15 2017

पत्रकार रिफत जावेद बोले, नजीब पर फर्जी रिपोर्ट छापने वाले बेशर्म अखबार ने माफ़ी भी नहीं मांगी

बीते दिनों जेएनयू के लापता छात्र नजीब अहमद पर फर्जी रिपोर्ट छापने पर ‘जनता के रिपोर्टर’ के रिफत जावेद ने राज्यसभा टीवी पर अखबार टाइम्स ऑफ़ इण्डिया और पत्रकार दोनों पर निशाना साधा।

मीडिया मंथन प्रोग्राम में शामिल रिफत जावेद ने कहा कि 21 मार्च 2017 को टाइम्स ऑफ़ इंडिया में पत्रकार राज शेखर झा ने एक भ्रामक रिपोर्ट छापी। रिपोर्ट में कहा गया कि पिछले वर्ष अक्टूबर महीने से लापता नजीब अहमद आईएसआईएस से जुड़ने की फिराक में था, क्योंकि पुलिस ने उसके लैपटॉप की ब्राउजिंग हिस्ट्री में यह पाया कि वह आईएस से संबंधित जानकारी जुटा रहा था।

उन्होंने कहा कि जबकि उसी दिन दिल्ली पुलिस ने पत्रकार रवि शेखर झा कि रिपोर्ट को खारिज करते हुए कहा कि हमने कभी ऐसा कहा ही नहीं। यह अखबार गलत रिपोर्ट छापी है। पुलिस ने बताया कि जांच में नजीब के आईएस के साथ किसी भी प्रकार के जुड़ाव की जानकारी सामने आई ही नहीं है।

रिफत जावेद ने कहा कि मुख्य और तीसरे पृष्ठ पर 600 शब्दों में फर्जी रिपोर्ट छापने वाले अखबार ने अगले दिन पांचवें पेज पर एक कोने में मात्र 100 शब्दों का भूल सुधार छापकर अपना कोटा पूरा कर दिया। उन्होंने कहा कि अखबार या पत्रकार ने उस फर्जी रिपोर्ट के लिए माफी तक नहीं मांगी।

 

 

TOPPOPULARRECENT