Tuesday , December 12 2017

RJD कोटे से राबड़ी और जेठमलानी का राज्यसभा जाना तय!

पटना : राष्ट्रीय जनता दल राजद की तरफ से पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी और सुप्रीम कोर्ट के सिनियर वकील व साबिक एमपी राम जेठमलानी का राज्यसभा में जाना तकरीबन तय माना जा रहा है. मीडिया रिपोट्स के मुताबिक राम जेठमलानी को राजद की तरफ से राज्यसभा के लिए उम्मीदवार बनाये जाने पर पार्टी सरबराह लालू प्रसाद यादव ने मुहर लगा दी है. बताया जा रहा है कि जेठमलानी आगामी 30 मई को अपना नोमिनेशन दाखिल करेंगे.

इससे पहले मीडिया में छपी रिपोट्स के मुताबिक साबिक एमपी मो. शहाबुद्दीन की बीवी हिना शहाब के राज्यसभा में जाने को लेकर मामला तकरीबन तय माना जा रहा था. हालांकि सीवान जेल में शहाबुद्दीन से राजद कोटे के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री अब्दुल गफूर की मुलाकात की तस्वीर सार्वजनिक होने व सीवान के पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या के बाद हिना की दावेदारी को रद्द किये जाने का गौर किया गया.

जराए के मुताबिक राज्यसभा की पांच खाली जगह वाली सीटों में से दो पर राजद का दावा बनता है. इनमें एक सीट पर पहले से ही साबिक मुख्यमंत्री राबड़ी देवी का नाम तय था. जराए ने बताया कि राजद सरबराह लालू प्रसाद ने इससे पहले भी एक बार राम जेठमलानी को राज्यसभा भेजने का मन बनाया था, लेकिन उस बार यह फैसला नहीं लिया जा सका. हालांकि इस बार राम जेठमलानी को मौका दिये जाने पर फैसला ले लिया गया.
 
मालूम हो कि बिहार से राज्यसभा के पांच सदस्यों शरद यादव, केसी त्यागी, पवन वर्मा, आरसीपी सिंह और गुलाम रसूल का कार्यकाल जुलाई में खत्म हो रहा है. पांचों सदस्य जदयू के हैं. विधानसभा में संख्या बल के हिसाब से अब जदयू के ज्यादातर दो सदस्य ही राज्यसभा जा सकेंगे. बिहार से राज्यसभा की  खाली सिट वाली इन पांच सीटों में से राज्य विधानसभा में अपने संख्या बल की बुनियाद पर जदयू और राजद दो-दो सीटें जीत सकती हैं और भाजपा एक सीट हासिल करने के लिए कोशिश करेगी.

बता दें कि बिहार विधान परिषद की सात सीटों और राज्यसभा की पांच सीटों के चुनाव के लिए मंगलवार को अधिसूचना जारी कर दी गयी. बिहार सरकार द्वारा कल प्रकाशित एक गजट के अनुसार बिहार विधान परिषद की सात सीटों तथा राज्यसभा की पांच सीटें के लिए नामांकन की अंतिम तिथि 31 मई, नामांकन पत्रों की जांच की तारीख एक जून, नाम वापस लेने की अंतिम तारीख 3 जून निर्धारित की गयी.

बिहार विधान परिषद की इन सात सीटों तथा राज्यसभा की पांच सीटें के लिए मतदान की तिथि क्रमश: 10 जून एवं 11 जून निर्धारित की गयी है. यह सीटें क्रमश: आगामी 21 जुलाई को एवं 7 जुलाई को रिक्त हो रही हैं. गजट के अनुसार बिहार विधान परिषद तथा राज्यसभा की इन सीटों के लिए निर्वाचन की पूरी प्रक्रिया संपन्न करा लिए जाने की अंतिम तारीख 13 जून निर्धारित की गयी है.

TOPPOPULARRECENT