Sunday , July 22 2018

जम्मू- रोहिंग्या मुसलमानों की झोंपड़ियों को आग लगाने की नाकाम कोशिश

जम्मू: जम्मू के उपनगरीय क्षेत्र गांधी नगर के छनी रामा इलाके में बीती रात कुछ शरारती तत्वों ने रोहिंग्या मुसलमानों  की झोपड़ियों को कथित तौर पर आग के हवाले करने की नाकाम कोशिश की है। इन शरारती तत्वों नेझोंपड़ियों की तरफ़ कुछ पोस्टर भी फेंके हैं जिन पर लिखा है कि रोहंगया शरणार्थियों को वापिस भेजा जाये।

ये घटना गांधी नगर में संजू इन मिल्ट्री स्टेशन 36 ब्रिगेड फ़ौजी कैंप पर हवाई हमला और असेम्बली के बाहर भारतीय जतना पार्टी (बी जे पी के कार्यकर्ताओं की रोहंगया मुसल‌मानों से संबंधित‌ तनाजे बयानबाज़ी के मद्देन‌ज़र में पेश आई है। एक सिटीज़न जर्नलिस्ट ने अपनी एक वीडियो में कहा कि कुछ शरारती लोग‌ छनी रामा में स्थित‌ रोहंगया बस्ती में आए और रोहंगया शरणार्थियों की झुग्गी झोंपड़ियों को आग के हवाले करने की कोशिश की।

उन्होंने कहा ‘जम्मू में रोहंगया मुसल‌मानों के ख़िलाफ़ पहले से ही साज़िशें चल रही थीं। लेकिन जब  इन कैंप पर हमला हुआ तो बग़ैर किसी जांच‌ के रोहंगया शरणार्थियों को क़सूरवार ठहराया गया। ये ग़लत है । क्या जम्मू कशमीर में होने वाले सभी हमले रोहंगया शरणार्थि कर रहे हैं?’।

वीडियो में एक बुज़ुर्ग रोहंगयाई रफ़ूजी को ये कहते हुए सुना जा सकता है ‘मोटर साईकिल पर तीन लोग‌ यहां आए । उनमें से एक बाहर खड़ा रहा जबकि दो अंदर घुस आए । उन्होंने अपने चेहरे छुपा रखे थे । एक आदमी ने तेल छिड़क दिया जबकि दूसरे ने माचिस की तीली जलाकर इस पर फेंक दी।

इस के बाद तीनों मौके से फ़ौरन फ़रार हो गए। चेहरे बंद होने की वजह से हम उन्हें पहचान नहीं पाए ‘। वही एक नौजवान रोहंगयाई रफ़ूजी ने बताया की’बस्ती को आग लगाने की ग़रज़ से आने वाले लोग‌ कुछ पोस्टर छोड़कर चले गए ‘।

TOPPOPULARRECENT