लोढ़ा डेवलपर्स को देश की सबसे धनी रियल एस्टेट कंपनी आंका गया है!

लोढ़ा डेवलपर्स को देश की सबसे धनी रियल एस्टेट कंपनी आंका गया है!

जोधपुर निवासी लोढ़ा डेवलपर्स के मंगलप्रभात लोढ़ा और उनके परिवार को देश के रियल एस्टेट क्षेत्र का सबसे अमीर उद्यमी आंका गया है। उनकी कुल संपत्तियां 31,960 करोड़ रु. हैं।

भास्कर डॉट कॉम पर छपी खबर के अनुसार, ‘ग्रोही हुरुन इंडिया रियल एस्टेट रिच लिस्ट 2019’ में डीएलएफ के राजीव सिंह दूसरे और एम्बैसी ग्रुप के संस्थापक जितेंद्र विरवानी तीसरे स्थान पर हैं। लाेढ़ा पिछले साल भी टाॅप पर थे।

एक दिसंबर, 1955 को जोधपुर में जन्मे लोढ़ा ने जोधपुर विश्वविद्यालय से पढ़ाई की। वे मुंबई के सबसे पॉश विधानसभा क्षेत्र मालाबार हिल से पांचवीं बार विधायक चुने गए हैं।

वे इसी वर्ष मुंबई भाजपा के अध्यक्ष भी बनाए गए थे। उनके पिता गुमानमल लोढ़ा स्वतंत्रता सेनानी रहे, फिर हाईकोर्ट के जज बने और बाद में पाली लोकसभा क्षेत्र से सांसद चुने गए।

गत वर्ष ही जोधपुर में उनकी प्रतिमा स्थापित की गई थी। लोढ़ा की कंपनी अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की कंपनी में भी शेयर होल्डर है।

देश के सबसे अमीर रियल एस्टेट डेवलपर्स का खिताब पाने वाले मंगल प्रभात लोढ़ा की शादी जालोर जिले के भीनमाल के लुंकड़ परिवार में मंजू लुंकड़ के साथ हुई थी।

मंजू के पिता किशोरमल लुंकड़ भीनमाल में 72 जिनालय निर्माण कराने वाले शख्स है। शादी के बाद मंजू का सरनेम में लोढ़ा जुड़ गया। मंजू लोढ़ा अपने पति की कंपनी में बराबर की हिस्सेदार बनी।

कुशल कारोबारी के साथ धार्मिक प्रवृति की महिला हैं मंजू
मंजू लोढ़ा धार्मिक प्रवृति की महिला हैं। भक्त के ईश्वर तक पहुंचने की सरल विद्या वे भक्ति को मानती हैं।

अपने बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन व्यवसाय के तहत जहां कहीं भी भवन बनाती हैं, वहां के लोगों की राय लेकर मंदिर अवश्य बनाती हैं। मुंबई के डोंबिवली में जैन मंदिर, थाणा तथा अपोलो में गणेश मंदिर, साईं मंदिर बनवाया है।

जुहू चंद्रा वसई में निर्मित लोढ़ा धाम साधु-संतों के रहने, खाने, व्याख्यान देने का भव्य स्थान है। यहां पांच लाख से अधिक पुस्तकों का अदभुत वाचनालय भी है, जो जैन धर्म से संबंधित है।

देश-विदेश के शोधार्थियों के लिए अनुपम स्थान है। यहां एक सुंदर गौशाला भी है, जिसमें पचास से अधिक गायें है। लोढ़ा फैमिली ने ही राजस्थान में नागौर के मूंडवा में कुल देवी का भव्य मंदिर बनवाया है। जहां पर धर्मशाला और गौशाला निर्माणाधीन है।

समाजसेवा में अग्रणी रहने के साथसंगीत व कला प्रेमी हैं मंजू लोढ़ा
समाजसेवा के अतिरिक्त मंजू लाेढ़ा काे लेखन, स्पीच देना, संगीत, कला संग्रह, विदेश यात्रा इत्यादि में विशेष रुचि है।

उनके कार्यों में परिवार के सभी सदस्यों का पूरा सहयोग तथा समर्थन प्राप्त है। पति मंगल प्रभात लोढ़ा मुम्बई के जानेमाने राजनीतिज्ञ व मालाबार विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं।

‘लोढ़ा ग्रुप ऑफ कम्पनीज’ के भवन निर्माण कार्य इनके दोनों पुत्र अभिषेक व अभिनंदन लोढ़ा संभालते हैं। इनकी दाेनाें बहुएं विनती व शीतल भी काफी शिक्षित हैं। पोतियां यशवी तथा आयरा और एक पोता है।

Top Stories