Friday , April 20 2018

RSS ने अपने मंच से पूरे देश को हिन्दू राज्य बनाने का पैगाम दिया

मेरठ: मेरठ के जागृती विहार एक्स्टेन्शन में आरएसएस के मेरठ में अब तक के सबसे बड़े प्रोग्राम में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि हमें देश के लिए एक होना है। भारत ही दुनियां को रास्ता दिखा सकता है, कट्टर हिंदुत्व, हिंसा की नरमी के लिए है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

दुनियां अच्छी बातों को तभी मानती है जब उसके पीछे कोई शक्ति खड़ी हो। गर्व से कहो कि हम हिन्दू हैं। लगभग एक साल से आज के कार्यक्रम को लेकर आरएसएस की तैयारियां, कार्यक्रम की कमियाबी के लिए सरकारी मशीनरी का एक पांव पर खड़े होना और हर स्तर से उस कर्यक्रम की विज्ञापन पर लाखों का खर्च, आरएसएस स्वंय सेवकों के लिए खाना, घर से बुलाने के लिए गाड़ियाँ और सुरक्षा के जबर्दस्त वयवस्था के बावजूद कार्यक्रम की हकीकत पर विश्लेषण करें तो जनता थे तो बहुत, लेकिन उनकी संख्या पुलिस को मिलाकर शायद ही एक लाख तक पहुंचे।

इकट्ठा हुए जनता को तीन हिस्सों में बांटा जा सकता है, एक हिस्सा जो सबसे बड़ा नजर आ रहा था छात्र का जिनकी उम्र बीस साल से कम थीं, दूसरा हिस्सा गाँव के लोगों का था जो सीधे सादे लोग थे और कार्यक्रम की समाप्ति पर खाने के पैकिटों पर टूटे पड़ रहे थे। तीसरे हिस्से में आरएसएस के ज़िम्मेदार नजर आ रहे थे, जिनके प्रभाव, बात करने का अंदाज़, चलने फिरने से आरएसएस की नीति व मकसद ज़ाहिर हो रहा था।

कार्यक्रम में आरएसएस की ताक़त महज़ उनका अपनी नीति के लिए निरंतर लगे रहना नज़र आया। कार्य्रक्रम के बाद स्वंयसेवी आपस में बातें करते नजर आये, एक साल से इस कार्यक्रम की तैयारी में लगे रहे थे। आज रात चीन की नींद नसीब होगी। कार्यक्रम के बीच मोहन भागवत के ज़रिए जो भी स्टेज से ख़िताब किया गया उसका लहजा पूरे देश को हिन्दू राज्य बनाने का पैगाम था।

TOPPOPULARRECENT