RSS विचारक ने मदरसों को मिलने वाली फंडिंग की जांच करने की मांग की!

RSS विचारक ने मदरसों को मिलने वाली फंडिंग की जांच करने की मांग की!

बिजनौर के शेरकोट स्थित एक मदरसे से बरामद हुए असलाहों पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से जुड़े मुस्लिम विचारक ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि ये घटना बहुत ही शर्मनाक है.

लगातार कट्टरपंथी वहाबी मुसलमानों की वजह से देश के राष्ट्रवादी मुसलमानों को परेशानी व शर्म का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने सरकार से मांग की है कि देश भर में जहां-जहां भी वहाबी विचारधारा के मदरसे हैं, उनकी सघन चेकिंग कराई जाए। इनकी फंडिंग की भी जांच कराई जाए।

अलीगढ़ में मुस्लिम संगठनों के विचारक मौ आमिर रशीद ने केंद्र व प्रदेश सरकार से मांग करते हुए कहा कि इन मदरसों की सघन जांच होनी चाहिए।

मुस्लिम संघ विचारक ने बिजनौर के शेरकोट स्थित मदरसे में मिले हथियारों पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि आजादी के बाद से हमारे देश में जो सूफिज्म की विचारधारा थी, वह अमन व शांति के रास्ते पर चल रही थी।

मगर जब से सऊदी अरब की शह व फंडिंग पर वहाबी विचार को बढ़ावा मिला, तब से कट्टरपंथी मुसलमान देश विरोधी गतिविधियों में संलिप्त पाए जाने लगे हैं।

साभार- न्यूज़18

Top Stories