Monday , September 24 2018

मंदिर में मांस फेंके जाने की अफवाह, सांप्रदायिक तनाव, भारी संख्या में सुरक्षाबल तैनात

पश्चिम बंगाल के 24 परगना जिले में शुक्रवार को  मंदिर में मांस फेंकने जाने की अफवाहों पर  तनाव फैल गया।  मंदिर में मांस फेंकने की अफवाहों के चलते लोगों ने रास्ता जाम कर दिया और नारेबाजी की, लेकिन किसी तरह की हिंसा की खबर नहीं है। इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक रेपिड एक्शन फोर्स (आएएफ) को मौके पर रवाना कर दिया गया और इलाके में धारा 144 के तहत कर्फ्यू लगा दिया गया। राज्य के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि अब हालात काबू में हैं और इलाके में शांति कायम हो रही है। उन्होंने बताया कि पर्याप्त मात्रा में पुलिस बल को वहां लगाया गया है। हालांकि पुलिस अधिकारी मंदिर में मांस फेंके जाने की खबर की पुष्टि नहीं कर सके। मामला बदुरिया से 40 किलोमीटर के फासले का है जहां पिछले साल हुए सांप्रदायिक संघर्ष में एक शख्स की जान चली गई थी।

स्थानीय सूत्रों ने बताया कि इस साल 14 जनवरी को भी इस प्रकार के छोटे झगड़े हुए थे। इससे पहले राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इलाके को बांग्लादेश की सीमा से सटे होने के कारण होली के अवसर पर संवेदशनसील मानते हुए पुलिस को हाई अलर्ट पर रहने को कहा था। उन्होंने कहा था कि शरारती तत्व त्योहार के मौके पर परेशानी पैदा करेंगे। उन्होंने उत्तर प्रदेश और राजस्थान से बांग्लादेश में की जा रही पशु तस्करी को रोकने के लिए कहा था।

 

TOPPOPULARRECENT