Saturday , July 21 2018

वीडियो : आईएएस/आईपीएस परीक्षा की तैयारी के लिए समीर अहमद सिद्दीकी ने बताये गुर

हैदराबाद। समीर अहमद सिद्दीकी ने कहा कि भारतीय सिविल सेवा परीक्षा दुनिया की सबसे कठिन परीक्षाओं में से एक है। यह प्रतिष्ठित परीक्षा केंद्रीय लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित की जाती है और हर साल लगभग 11 लाख उम्मीदवार इसके लिए आवेदन करते हैं। इस परीक्षा में तीन चरण प्रारंभिक, मुख्य और व्यक्तित्व परीक्षण होते हैं।

परीक्षा के लिए आवेदन करने वाले 11 लाख उम्मीदवारों में से, लगभग 7 लाख प्रारंभिक परीक्षा के लिए जाते हैं और लगभग 14000 उम्मीदवार परीक्षा परीक्षा के लिए योग्य होते हैं। इन 14000 उम्मीदवारों में केवल 2500-3000 उम्मीदवार को रिक्त पदों की संख्या के आधार पर साक्षात्कार के लिए चुना जाता है।’

अंतिम चरण अर्थात व्यक्तित्व परीक्षण में 900 उम्मीदवार योग्यता सूची में आते हैं। सिविल सेवक बनने का सपना पूरा करने के लिए लक्ष्य का निर्धारण, समर्पित और ईमानदार होना चाहिए। सिलेबस पुस्तकों को पढ़ने से अभ्यर्थियों को सफलता हाथ नहीं आएगी। यदि इस परीक्षा की तैयारी में कोई स्थिरता नहीं है। इस परीक्षा में सफलता हासिल करने के लिए कोई शॉर्टकट नहीं हैं।

कड़ी मेहनत सफलता की एकमात्र कुंजी है। यह याद रखना चाहिए कि यह परीक्षा आसान नहीं है। सबसे महत्वपूर्ण बात, सपने को हासिल करने के लिए एक दृढ़संकल्प और सफलता के लिए एक समर्पित प्रयास जरुरी है।

TOPPOPULARRECENT