सऊदी अरब: केरल की नर्स कोरोना वायरस की चपेट में आई!

सऊदी अरब: केरल की नर्स कोरोना वायरस की चपेट में आई!

सऊदी अरब के अस्पताल में काम करने वाली एक भारतीय नर्स कोरोना वायरस संक्रमित पाई गई। केंद्रीय राज्य विदेश मंत्री वी.मुरलीधरन ने गुरुवार को इस बात की पुष्टि की।

 

भास्कर डॉट कॉम पर छपी खबर के अनुसार, उन्होंने कहा- केरल की लगभग 100 नर्स दुबई के अल-हयात अस्पताल में काम करती हैं। सभी की जांच की गई। एक नर्स कोरोना वायरस संक्रमित पाई गई।

उसका असीन नेशनल हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है। वह जल्दी से ठीक हो रही है। उन्होंने एक दिन पहले कहा था कि वे जेद्दाह में लगातार भारतीय दूतावास के संपर्क में हैं और नर्सों की हर संभव मदद की जा रही है।

गुरुवार को केरल के मुख्यमंत्री पी. विजयन ने विदेश मंत्रालय को पत्र लिखा। उन्होंने मंत्रालय से सऊदी अरब में कार्यरत केरल की नर्सों के मामले में हस्तक्षेप की मांग की।

 

 

उन्होंने लिखा- सऊदी अरब के अल-हयात अस्पताल में कार्यरत नर्सों पर कोरोना वायरस की चपेट में आने का खतरा मंडरा रहा है। उनकी मदद के लिए हर संभव प्रयास किए जाने चाहिए।

 

 

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) प्रमुख टेड्रॉस एडहेनम गेब्रेयीसुस ने बुधवार को कहा था कि इस समस्या को दुनिया के लिए खतरा (ग्लोबल हेल्थ इमरजेंसी) घोषित किया जाए या नहीं, इस पर विचार कर रहे हैं।

 

 

 

इससे पहले चीन में अब तक कोरोना वायरस के 600 मामले सामने आ चुकेहैं। 17 लोगों की मौत हो गई है। गुरुवार सुबह वुहान से बाहर जाने वाली सभी उड़ानों और ट्रेनों को बंद कर दिया गया था।

 

चीन के अधिकारियों ने हुआनगांग और इझोऊ में भी यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया है। दोनों शहरों में पब्लिक ट्रांसपोर्ट और ट्रेनें रोक दी गई है। लोगों को बिना कारण घर से निकलने से मना किया गया है।

 

भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने गुरुवार कोकहा कि कोरोना वायरस को लेकर हम सतर्क हैं। चीन में हमारे दूतावास ने भी एडवाइजरी जारी की है। आने वाले लोगों को स्क्रीनिंग प्रॉसेस से गुजरना होगा। बाकी वहां रहने वाले भारतीयों को सतर्क रहने के लिए कहा गया है।

 

 

अमेरिका के 5 हवाई अड्डों पर थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है। लंदन से मॉस्को तक केहवाई अड्डों पर भी जांच की जा रही है। डब्ल्यूएचओ ने पुष्टि की है कि प्रभावित लोगों के संपर्क में आने पर यह फैल सकता है।

 

माना जा रहा है कि जानवर से यह वायरस फैला। चीन के रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र के निदेशक गाओ फू ने कहा कि हम पहले से ही जानते हैं कि बीमारी एक ऐसे जगह से पनपी, जहां अवैध तरीकेसे जंगली जानवरों कीखरीद-बिक्री होतीहै।

 

हॉन्गकॉन्गऔर ब्रिटिश वैज्ञानिकों ने अनुमान लगाया है कि वुहान में 1300 से 1700 लोग संक्रमित हो सकते हैं। स्वास्थ्य अधिकारियों नेलोगों से आग्रह किया है कि वे नियमित रूप से हाथ धोएं, भीड़भाड़ वाली जगहों से बचें, ताजी हवा लें और खांसी होने पर मास्क पहनें।

 

खांसी या बुखार होने पर अस्पताल जाएं।स्थानीय सरकार ने महत्वपूर्ण सार्वजनिक गतिविधियों को रद्द कर दिया है। 3-9 फरवरी को होने वालीमहिला ओलिंपिक फुटबॉल क्वालिफाइंग मैच को पूर्वी शहर नानजिंग में स्थानांतरित कर दिया गया है।

Top Stories