सऊदी अरब के अरबपति प्रिंस अल-वलीद रिहा हुए

सऊदी अरब के अरबपति प्रिंस अल-वलीद रिहा हुए

रियाद। अरबपति सऊदी प्रिंस अल-वलीद बिन तलाल का कहना है कि भ्रष्टाचार विरोधी कार्रवाई में तीन महीने की हिरासत के बाद सभी को माफ किया गया है। प्रिंस अल-वलीद ने मंगलवार को ब्लूमबर्ग न्यूज़ के साथ एक साक्षात्कार में कहा कि मैं ऐसा व्यक्ति नहीं हूं। हम सऊदी अरब में निवेश जारी रखने जा रहे हैं। मैं सऊदी अरब में पैदा हुआ था और सऊदी अरब में ही मर जाऊंगा।

उन्होंने अपनी रिहाई की शर्तों का खुलासा करने से इनकार कर दिया जिसे उन्होंने “गोपनीय और गुप्त समझौते” के रूप में वर्णित किया। अल-वलीद 4 नवंबर से करीब 350 संदिग्धों के बीच सबसे उच्च प्रोफ़ाइल वाले बंदी थे, जिनमें व्यापारिक और मंत्रियों सहित रियाद के विलासिता रिट्ज-कार्लटन में शामिल थे।

एक सऊदी अधिकारी ने एएफपी को बताया कि राजकुमार की रिहाई एक मौद्रिक निपटान के बाद आ गई थी, जो अधिकारियों को उनकी आजादी के बदले में ज्यादातर अन्य बंदियों के साथ था।

उन्होंने कोई आंकड़े नहीं बताये। अटार्नी जनरल शेख सऊद अल-मोजेब ने हालांकि कहा है कि संपत्ति, प्रतिभूतियां और नकदी शामिल संपत्तियों के विभिन्न रूपों में हुई कार्रवाई में 107 अरब डॉलर की कमी हुई है। गौरतलब है कि पिछले साल सऊदी अरब ने भ्रष्टाचार विरोधी समिति बनाकर देश के कई अरबपतियों से लेकर शाही खानदानों के लोगों को हिरासत में लिया गया।

Top Stories