Friday , December 15 2017

VIDEO: नोटबंदी सही था या गलत, SBI के पूर्व चेयरमैन अरुंधति भट्टाचार्य से राजदीप सरदेसाई की खास बातचीत

नई दिल्ली। देश की सबसे बड़ी बैंक एसबीआई से रिटायर हो चुकी पूर्व चेयरपर्सन अरुंधति भट्टाचार्य ने गुरुवार कहा कि बैंकों को नोटबंदी की तैयारी के लिये और समय दिया जाना चाहिए था। नोटबंदी के दौरान बैंकों पर काफी दबाव पड़ा है।

पिछले साल आठ नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1,000 रुपये के नोट को चलन से हटाने का फैसला किया था। इस पहल का मकसद कालाधन, भ्रष्टाचार और नकली मुद्रा पर लगाम लगाना था।
अरुंधति ने इंडिया टुडे के एक कार्यक्रम में कहा, अगर हम किसी नयी तरह की चीज के लिये तैयार होते हैं, तब यह ज्यादा सार्थक और बेहतर होता।

स्पष्ट तौर पर अगर नोटबंदी के लिये थोड़ी अधिक तैयारी का मौका मिलता, निश्चित रुप से इसका हम पर दबाव कम होता। उन्होंने कहा, अगर आपको नकदी लानी-ले जानी होती है, उसके कुछ नियम है। हमें पुलिस की जरुरत होती है। काफिले की व्यवस्था करनी होती है।

नजदीकी मार्ग चुनना होता है। यह बड़ा लाजिस्टिक कार्य होता है। देश के सबसे बड़े बैंक की चेयरपर्सन पद से सेवानिवृत्त हुई अरुंधति के अनुसार इस बात का आकलन करने के लिये और समय की जरुरत है कि नोटबंदी सही कदम था या नहीं।

विडियो सौजन्य- ‘आज तक’

TOPPOPULARRECENT