दलितों के समर्थन में 6 अप्रेल को भारत भर में विरोध प्रदर्शन करेगी एसडीपीआई

दलितों के समर्थन में 6 अप्रेल को भारत भर में विरोध प्रदर्शन करेगी एसडीपीआई

भोपाल। सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (एसडीपीआई) 6 अप्रैल को दलितों के समर्थन में दिल्ली और देश के अन्य हिस्सों में प्रदर्शन करेगी। एसडीपीआई के महासचिव मुहम्मद शफी ने एक बयान में कहा है कि दलित समुदाय के सदस्यों के बीच हाल ही में सुप्रीम द्वारा अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति अधिनियम को लेकर असंतोष है और इसके खिलाफ दलित संगठनों द्वारा ‘भारत बंद’ किया गया जिसमें महाराष्ट्र, बिहार और अन्य राज्यों के कई स्थानों पर बर्बरता, आगजनी और लूट की घटनाएं हुई एक दर्जन से ज्यादा मौतें हुई हैं।

यह स्पष्ट है कि ऊपरी जाति के कुछ सशस्त्र समूहों ने इस वास्तविक विरोध को मिटाने के लिए हिंसा फैलाई है। शफी ने हालांकि कहा कि, दलित हिंसा में अब राजनीतिक सत्ता के संतुलन में बदलाव दिखाई दे रहा है।

राजनीतिक और सामाजिक बहिष्कार की भावना व्यापक है कि भारतीय संविधान की रक्षा के लिए भाजपा के दलित सांसदों को भी लामबंद देखा गया है। उन्होंने कहा कि सरकार स्पष्ट रूप से इस अधिनियम को समझने में नाकाम रही है।

दलितों के गुस्से से ही 2 अप्रैल को ‘भारत बंद’ का आयोजन हुआ। हालांकि, शफी ने कहा अत्याचार अधिनियम से संबंधित विकास के लिए दलितों में स्थिरता को सीमित करने के लिए यह बहुत आसान होगा।

देश भर में कई घटनाओं ने दलित समुदायों की सामाजिक मूलधारा से अलगाव की भावना को बढ़ा दिया है। युवाओं की राजनीतिक, सामाजिक और शैक्षिक आकांक्षाओं को पूरा करने में स्थापित दलित संगठनों की असफलता ने असंतोष को प्रेरित किया।

(परवेज़ बारी)

Top Stories