Monday , December 11 2017

सेकुलर शब्द सबसे बड़ा झूठ- योगी आदित्यनाथ

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार (13 नवंबर) को रायपुर में कहा कि “सेकुलर” शब्द “सबसे बड़ा झूठ” है जो आजादी के समय से भारत में बोला जा रहा है और इसने देश को नुकसान पहुंचाया है।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि “इतिहास को तोड़-मरोड़ कर पेश करना” राजद्रोह से कम बड़ा अपराध नहीं है। सीएम योगी ने दावा किया कि यूरोप में “पाकी” शब्द सबसे बड़ी गाली है। योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि वो जनता की तकलीफ समझते हैं।

समाचार पत्र दैनिक जागरण द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में शिरकत करने के दौरान योगी आदित्यनाथ एक सवाल के जवाब में बोले, “मेरा मानना है कि आजादी के बाद भारत में सबसे बड़ा झूठ धर्मनिरपेक्ष शब्द है। नागरिकों के साथ, भारत के लोगों के साथ उन लोगों को माफी मांगनी चाहिए, जिन्होंने इस शब्द को जन्म दिया और जो यह शब्द इस्तेमाल करते हैं कोई व्यवस्था धर्मनिरपेक्ष नहीं हो सकती। राजनीतिक व्यवस्था पंथनिरपेक्ष हो सकती है। अगर कोई हमसे कहेगा कि शासन उस उपासना विधि से चलनी चाहिए, तो नहीं चल सकती। यूपी के अंदर देखूंगा तो 22 करोड़ लोगों को देखना होगा। मैं इन लोगों के सुरक्षा के प्रति, उनकी भावनाओं के प्रति जवाबदेह हूं। लेकिन एक समुदाय का तुष्टिकरण करने के लिए भी नहीं बैठा हूं। पंथनिरपेक्षता हो लेकिन धर्मनिरपेक्ष नहीं हो सकता। ”

कार्यक्रम के दौरान दुनिया में भारत की स्थित पर बोलते हुए सीएम आदित्यनाथ ने कहा कि “पाकिस्तान” और “पाकी” शब्द यूरोप में गाली के समान है। सीएम आदित्यनाथ ने कहा, “यूरोप में सबसे बड़ी अपमान-जनक शब्द है वो पाकी शब्द है। पाकिस्तान शब्द ही गाली का पर्याय है हो गया है।” कार्यक्रम में सीएम आदित्यनाथ ने कहा, “इतिहास को तोड़ मरोड़ कर प्रस्तुत करना राष्ट्रद्रोह से कम नहीं।” यूपी के सीएम ने कांग्रेस पर भी निशाना साधा। रायपुर में ही एक अन्य कार्यक्रम में कहा, “कांग्रेस ने इस देश की मूल भावनाओं के साथ खिलवाड़ किया। अपने स्वार्थ के लिुए इस देश को जाति के नाम पर, भाषआ के नाम पर, क्षेत्र के नाम पर विभाजित किया। देश में कहीं आतंकवाद, कहीं नक्सलवाद, कहीं अलगववाद को जन्म दिया। उसकी कीमत ये देश आज भी चुका रहा है…हमारे लिए संपूर्ण भारत एक परिवार है।”

इसी बीच उन्हों ने मोदी सरकार की तुलना राम राज से किया और कहा कि मोदी देश की जनता का दर्द समझते हैं

 

TOPPOPULARRECENT