शीला दीक्षित बोलीं, AAP के साथ गठबंधन पर फिलहाल कुछ भी नहीं, BJP और AAP दोनों ही चुनौती

शीला दीक्षित बोलीं, AAP के साथ गठबंधन पर फिलहाल कुछ भी नहीं, BJP और AAP दोनों ही चुनौती

नई दिल्ली: अजय माकन के इस्तीफे के बाद दिल्ली कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष बनी शीला दीक्षित ने बुधवार को कहा कि अभी तक आम आदमी पार्टी से गठबंधन को लेकर कोई बातचीत नहीं हुई है. आम आदमी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी दोनों हमारे लिए समान चुनौती हैं. हम चुनौतियों को एक साथ सामना करेंगे. कांग्रेस की दिल्ली इकाई की अध्यक्ष के रूप मे कार्यभार ग्रहण करने से पहले दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने कहा कि राजनीति चुनौतियों से भरी होती है, और हम उसी के अनुसार रणनीति तैयार करेंगे. BJP और AAP दोनों ही चुनौती हैं, हम इनका एक साथ मुकाबला करेंगे. AAP के साथ गठबंधन पर फिलहाल कुछ भी नहीं है.

80 वर्षीय शीला दीक्षित ने आम आदमी पार्टी से किसी तरह के गठबंधन को लेकर अपनी आपत्ति के संकेत दिये और कहा कि दिल्ली विधानसभा में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को लेकर चर्चा काफी खराब थी. उन्होंने कहा कि विधानसभा में जिस तरीके से राजीव गांधी को लेकर उन्होंने बातें कीं, उससे हम काफी आहत हुए और यह कतई सही नहीं था. वहीं, एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी के साथ अब तक कोई बातचीत नहीं हई है.

बुधवार को शीला दीक्षित ने कहा कि राजनीति चुनौतियों का खेल है. हम इसी के अनुसार अपनी रणनीति बनाएंगे. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस हाई कमान ही गठबंधन और महागठबंधन के नफे-नुकसान पर फैसला लेंगे. हाई कमान जो फैसला लेगा हम उसी का पालन करेंगे.

उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि हम चाहते हैं कि राहुल गांधी देश के प्रधानमंत्री बने. हालांकि, यह सब समय पर निर्भर करता है. बता दें कि शीला दीक्षित को प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने पर आम आदमी पार्टी ने हमला तेज कर दिया.

Top Stories