Saturday , July 21 2018

किसानों की ख़ुदकुशी को ‘आकस्मिक मौत’ बताने वाली भाजपा सरकार एक दिन ऐसी ही मौत मरेगी: शिवसेना

शिवसेना ने किसानों की खुदकुशी के मुद्दे पर महाराष्ट्र सरकार के बयान को लेकर उसपर निशाना साधा है। शिवसेना ने कहा कि जिस तरह सरकार इस मौतों को ‘आकस्मिक’ बता रही है। अगर यही रवैया रहा तो राज्य सरकार की भी एक दिन आकस्मिक मौत मरेगी।

शिवसेना ने अपने मुखपत्र ‘सामना’ में लिखा, ‘मुख्यमंत्री ने अपने साप्ताहिक कार्यक्रम ‘मी मुख्यमंत्री बोल्तोय’ में योजनाओं की घोषणा की है कि वह पिछले 25 साल से विपक्ष में रहे देवेंद्र फडणवीस किसानों के लिये ऋण माफी की मांग कर रहे थे।’

इसलिए अब सत्ता में आने के बाद फडणवीस को किसानों का पूरा ऋण माफ कर देना चाहिए जैसी कि उन्होंने पहले मांग की थी। पार्टी ने कहा कि रोजाना 5 से 10 किसान खुदकुशी कर रहे हैं और यह संख्या इस महीने 100 से ज्यादा हो चुकी है।

आगे कहा कि कई राज्यों में भाजपा सरकार बनने काफी उत्साहजनक है लेकिन पार्टी को राजग के 33 सहयोगियों के बारे में अपनी नीतियां स्पष्ट करनी चाहिए जिनके लिए हाल ही में पीएम ने रात्रि भोज आयोजित किया गया था।

संपादकीय में कहा गया है कि भाजपा के लिए स्वर्णिम काल आ गया है लेकिन जम्मू-कश्मीर में हिंसा जारी है। पाकिस्तान ने कुलभूषण के मामले में सख्त रुख किया हुआ है। महाराष्ट्र जैसे राज्यों के किसान सामूहिक आत्महत्या करने पर आमादा हैं। देश का स्वर्णिम काल अभी नहीं शुरू हुआ है।

TOPPOPULARRECENT