Sunday , September 23 2018

शिवसेना ने की राजीव गाँधी की तारीफ़, PM मोदी को आज़ादी छीनने वाला बताया

शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे ने मोदी सरकार पर हमला बोला है। पार्टी के मुखपत्र सामना को दिए साक्षात्कार में उद्धव ने भाजपा के अच्छे दिन के वादे पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अच्छे दिन सिर्फ सरकारी विज्ञापनों में ही दिखाई दे रहे हैं, बाकी सिर्फ आनंद ही आनंद है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से चीजें हो रही हैं वो सब गड़बड़ है। इसे देखते हुए शांत रहना मुश्किल है।

फिलहाल समझदारी इसी में है कि जो हो रहा है उसे शांति से देखते रहो, लेकिन शिवसेना प्रमुख की विरासत चलानी हो तो शांत रहना हमारे खून में नहीं है। इसलिए जहां-जहां जो चीज हमें ठीक नहीं लगती वहां-वहां हम अपने विचार मजबूती से रख रहे हैं।

जीएसटी लागू करने के तरीके की तीखी आलोचना करते हुए उद्धव ने कहा कि विरोध करने के पीछे एक ही उद्देश्य है कि हमारे यहां सबका केंद्रीयकरण करना है या विकेंद्रीयकरण करना है?

अगर जिसकी लाठी उसकी भैंस ही राज करने का तरीका है तो राजीव गांधी प्रधानमंत्री थे तब उन्होंने पंचायती राज को निचले स्तर तक पहुंचाया था। आज मोदी प्रधानमंत्री हैं और उस स्वायत्तता को खत्म कर सब कुछ केंद्र के हाथ में रखने का काम शुरू है।

उन्हाेंने नोटबंदी पर भी मोदी सरकार को निशाने पर लेते हुए कहा कि 4 महीने में 15 लाख लोग बेरोजगार हो गए। नौकरियां छूट गईं, जिन 15 लाख लोगों ने नौकरी गंवाई उनकी दाल-रोटी की व्यवस्था है क्या? तमाम मुद्दों पर सरकार की आलोचना के बीच उद्धव ने साफ किया कि इन बातों के लिए उन्हें सरकार विरोधी नहीं समझा जाना चाहिए।

TOPPOPULARRECENT