Tuesday , December 19 2017

UP: भूखे और ग़रीब बच्चों के बजाय गायों को खिलाया जा रहा मिड-डे मील

जहां मेरठ के एक कॉलेज में पिछले तीन सालों से मिड-डे मील (एमडीएम) नहीं वितरित किया गया, वहीं ज़िला कार्यक्रम अधिकारी (DPO) ने 160 किलो एमडीएम का राशन जब्त किया, जो कि एक डेयरी में गायों को खिलाया जा रहा था।

DPO जेपी तिवारी ने कहा ‘हमें गुप्त सूचना मिली कि एमडीएम का राशन शहर के यादनगर इलाके में संचालित एक डेयरी में भेजा जा रहा है। इसके बाद हमने वहां पर औचक निरीक्षण किया। यह छापेमारी सिविल लाइंस पुलिस के साथ मिलकर की गई। हमें वहां पर राशन के 8 बोरे भी मिले।’

इस मामले में पुलिस ने डेयरी मालिक प्रवीण कुमार सहित कुंवर साईं पति उमा देवी, जो एक स्कूल में आंगनबाड़ी कर्मचारी है को हिरासत में लिया है। साथ ही यह माना जा रहा है कि उमा देवी ही स्कूल से एमडीएम डेयरी में उपलब्ध कराती थी।

पुलिस के मुताबिक यह राशन मेरठ शहर से पांच किलोमीटर दूर अब्दुल्लापुर के एक आंगनबाड़ी केंद्र के लिए था, जहां पर देवी काम करती थी। अधिकारियों की मानें तो राशन की आपूर्ति करने वाला शख्स भी डेयरी में छापेमारी के दौरान मौजूद था।

सिविल लाइन थाने के प्रभारी धीरज शुक्ला ने कहा एफआईआर में देवी का नाम होने पर उन्हें भी गिरफ्तार किया जाएगा।’

ग़ौरतलब है कि नानकचंद एंग्लो संस्कृत इंटर कॉलेज में तीन वर्षों से मिड-डे मील न दिए जाने का मामला प्रकाश में आया था। इसके साथ ही दो अन्य इंटर कॉलेज में निरीक्षण के दौरान पाया गया कि बहुत कम छात्रों को एमडीएम दिया गया।

TOPPOPULARRECENT