Saturday , January 20 2018

गुजरात दंगा: SIT प्रमुख आर के राघवन अपने पद से हटे

नई दिल्ली। उच्चतम न्यायालय ने 2002 के गुजरात दंगों के मामले में गठित विशेष जांच टीम (एसआईटी) के प्रमुख आर.के राघवन को सेवामुक्त कर दिया है। आर.के राघवन ने खराब स्वास्थ्य के चलते सुप्रीम कोर्ट से खुद को कार्यमुक्त किये जाने की मांग की थी। इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने एसआईटी सदस्य के.वेकटेशन को भी कार्यमुक्त कर दिया है।

 

सुप्रीम कोर्ट ने एके मल्होत्रा को एसआईटी टीम के कामकाज की देखरेख करने और तिमाही में टीम के काम की रिपोर्ट सौंपने का आदेश दिया है। प्रधान न्यायाधीश जे एस खेहर और न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड और न्यायमूर्ति एस के कौल ने वरिष्ठ वकील हरीश साल्वे के उस अभिवेदन पर गौर किया जिसमें उन्होंने राघवन को एसआईटी की अध्यक्षता से मुक्त किए जाने की बात कही थी।

पीठ ने एसआईटी द्वारा अब तक किए गए काम की सराहना की और साल्वे के अनुरोध को स्वीकार कर लिया। इसके साथ ही पीठ ने एसआईटी के अन्य सदस्य ए के मल्होत्रा से जांच दल का कामकाज देखने को कहा। शीर्ष न्यायालय द्वारा गठित एसआईटी गोधरा के बाद हुए दंगों के नौ बडे मामलों की जांच कर रही है। इनमें नरोदा गाम दंगे का मामला भी शामिल है, जिसमें एक समुदाय के 11 लोग मारे गए थे।

TOPPOPULARRECENT