एक और तानाशाही कदम, अब सोशल मीडिया पर हिन्दुइस्म के ख़िलाफ़ बोलने वालों पर रखी जाएगी नज़र

एक और तानाशाही कदम, अब सोशल मीडिया पर हिन्दुइस्म के ख़िलाफ़ बोलने वालों पर रखी जाएगी नज़र

आरएसएस और बीजेपी से जुड़ी संस्था अब सोशल मीडिया पर हिंदुओं और हिंदुत्व की रक्षा के लिए हिंदूवादी फ़ौज तैयार करने जा रही है। इस फ़ौज का गठन इसलिए किया जा रहा है, ताकि आरएसएस और बीजेपी हिंदुत्व को वापपंथी विचारधारा और इस्लामीस्म से बचा सके।

इस फ़ौज के गठन को लेकर पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी में बड़े पैमाने पर हिंदुइस्म एंड सोशल मीडिया कॉन्क्लेव नाम से एक आयोजन किया जा रहा है।

सोशल मीडिया पर इस फ़ौज में शामिल होने वाले लोगों को ये सिखाया जाएगा कि कैसे हिंदुओं के खिलाफ लोगों को भड़काने वाले से निपटा जाएगा।

मेल टुडे के मुताबिक, भारत नीति के सदस्य शैलेंद्र सेंगर का कहना है कि सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर हिन्दुओं के खिलाफ आये दिन आपत्तिजनक वीडियो और पोस्ट शेयर किए जाते हैं। जिससे समुदाय के लोगों की भावनाएं आहत होती हैं।

इस फ़ौज की मदद से अब आरएसएस और बीजेपी सोशल नेटवर्किंग साइट्स ट्विटर, फेसबुक, व्हाट्सऐप और इंस्ताग्राम पर यह सेना अपनी पैनी नजर रखेगी।

इस मामले में पर काशी में होने वाली बैठक में चर्चा होगी कि कैसे इस तरह हिंदुओं की भावना को आहत करने वाले प्रोपंडा के साथ चलने वाले लोगों को रोका जाए।

Top Stories