Sunday , December 17 2017

राफेल डील पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने PM मोदी से पुछे तीखें सवाल

सोमवार को अपने आवास पर हुई कांग्रेस कार्य समिति की बैठक को संबोधित करते हुए कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी ने कहा कि मोदी सरकार ने अपने अहंकार के चलते संसद के शीतकालीन सत्र को आयोजित न कराकर भारत के संसदीय लोकतंत्र को अंधेरे में लाकर खड़ा कर दिया है।

उन्होंने कहा कि सरकार गलत है अगर वह यह सोचती है कि वह लोकतंत्र के मंदिर को ताला लगा देगी।

सोनिया गांधी ने कहा कि ऐसा इसलिए किया गया है कि जिससे की मोदी सरकार विधानसभा चुनाव से पहले संवैधानिक जवाबदेही से बच निकले। आगे उन्होंने कहा कि संसद एक ऐसा मंच है जिसमें सवालों को पूछा जाना चाहिए- बड़ी जगहों पर हुए भ्रष्टाचार के बारे में सवाल, मंत्रियों के द्वारा खुद को निजी लाभ पहुंचाने जाने के बारें में सवाल और शक के दायरे में आए रक्षा सौदो के बारें में सवालों का पुछा जाना जरूरी है।

सरकार इन सवालों के जवाब देने के लिए बाध्य होना पड़ेगा। लेकिन सरकार ने इन सवालों से बचने के लिए गुजरात चुनावों को आगे कर दिया है। जो बेहद असाधारण प्रयास है।

इस से पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने ‘जनता का रिपोर्टर’ द्वारा राफेल डील पर प्रकाशित रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया देते हुए कथित भ्रष्टाचार के आरोपों से निकले सवालों पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से स्पष्टीकरण देने को कहा।

 

TOPPOPULARRECENT