सोनू सूद को इलेक्शन कमीशन ने पंजाब का स्टेट आइकॉन चुना!

, , ,

   

अभिनेता सोनू सूद को भारतीय चुनाव आयोग ने पंजाब राज्य का स्टेट आइकॉन चुना है। सोनू ने इस सम्मान पर खुशी जाहिर की और कहा कि वह इससे सम्मानित महसूस कर रहे हैं। 

सोनू ने लॉकडाउन के दौरान हजारों लोगों की मदद की थी। वह लगातार दूसरे राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों की मदद कर रहे थे ताकि वे अपने घरों तक पहुंच सकें।

साथ ही सोनू ने मजदूरों के अलावा कई अन्य लोगों को फेस शील्ड, खाना, मोबाइल फोन और अन्य चीजों से मदद की। कुछ दिनों पहले सोनू ने कहा था कि वह अपनी आत्मकथा लेकर आ रहे हैं, जिसका नाम ‘मैं मसीहा नहीं हूं’ है।

अभिनेता के तौर पर पहचान बनाने वाले सोनू सूद ने लॉकडाउन के दौरान प्रवासी श्रमिकों की बहुत मदद की थी. वह श्रमिकों के बड़े मददगार के रूप में सामने आये और अभिनेता से अलग उनकी समाजसेवी और दरियादिल वाले इंसान की पहचान पूरे देश में बनी।

उन्होंने देश के अलग-अलग हिस्सों में श्रमिकों को उनके घर भेजा. हज़ारों मजदूरों की मदद की।

कई जगहों पर मजदूरों ने उनकी पूजा तक कर डाली और उन्हें मसीहा तक बता डाला। मजदूरों की मदद करने के बाद से सोनू सूद की खूब चर्चा है।