श्रीसैलम पावर हाउस में आग: अभी तक छह लाशें की गई बरामद!

,

   

तेलंगाना के नागारकुर्नूल जिले में श्रीसैलम लेफ्ट बैंक केनाल में स्थित टीएस गेनको के हाइडल पावर स्टेशन में लगी भीषण आग के बाद वहां फंसे छह लोगों के शव बरामद किए गए हैं।

खास खबर पर छपी खबर के अनुसार, इससे पहले वहां मौजूद 17 व्यक्तियों में से आठ व्यक्यिों को बचा लिया गया था और बांकियों को बचाने के प्रयास किए जा रहे थे। घटना गुरुवार देर रात की बताई गई है।

इंडिया टीवी न्यूज़ डॉट इन पर छपी खबर के अनुसार, तेलंगाना के नागारकुर्नूल जिले में श्रीसैलम लेफ्ट बैंक केनाल में स्थित टीएस गेनको के हाइडल पावर स्टेशन में भीषण आग लगने की जानकारी सामने आई हैं।

अभी तक 6 लाशों को बरामद कर लिया गया है। माना जा रहा है कि पावर प्लांट के अंदर 9 मजदूर फंसे थे। बाकी तीन लोगों की तलाश जारी है। घटना गुरुवार देर रात की बताई गई है। प्रारंभिक रिपोटरें से मिली जानकारी के अनुसार, आग लगने की वजह शॉर्ट सर्किट बताई जा रही है, जिससे घटनास्थन पर घना धुआं उठता देखा गया।

घटनास्थल पर मौजूद 17 व्यक्तियों में से आठ व्यक्ति सुरंग के रास्ते सुरक्षित स्थान पर निकल आए। वहीं फंसे लोगों में छह टीएस गेनको कर्मचारी और तीन निजी कंपनी के कर्मचारी शामिल हैं। घटनास्थल पर दमकलकर्मी पहुंच चुके हैं और फंसे हुए डिप्टी इंजीनियर और सहायक इंजीनियर्स को बचाने की कोशिश की जा रही है। दमकलकर्मियों का कहना है कि धुआं बचाव कार्य में बाधा बन रहा है।

तेलंगाना के मंत्री जगदीश रेड्डी और टीएस गेनो के सीएमडी प्रभाकर राव मौके पर पहुंच चुके हैं और बचाव प्रयासों की निगरानी कर रहे हैं। रेड्डी ने कहा कि पावर स्टेशन की पहली इकाई में दुर्घटना हुई और चार पैनल क्षतिग्रस्त हो गए हैं। उन्होंने कहा कि बचाव कर्मी घने धुएं के कारण सुरंग में प्रवेश करने में असमर्थ थे।

बचाव अभियान में सहायता के लिए सिंगारेनी कोलियरी से बचाव कर्मियों को लाया जा रहा है। घटना के बाद पावर स्टेशन पर बिजली उत्पादन संचालन बंद कर दिया गया है। श्रीसैलम बांध कृष्णा नदी के पार स्थित है जो तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के बीच की सीमा के रूप में कार्य करता है।