Monday , July 16 2018

ST- SC आन्दोलन: राजस्थान में फिर भड़की हिंसा, पूर्व दलित विधायक के घर को फूंका

एससी-एसटी एक्ट में बदलाव के खिलाफ सोमवार को दलितों का जो विरोध प्रदर्शन शुरू हुआ था, वो शाम होते-होते भीषण हिंसा में तब्दील हो गया। इस हिंसा में आधिकारिक तौर पर 8 लोगों की मौत की खबर है। लेकिन एक दिन बाद भी हिंसा थमने का नाम नहीं ले रही है।

अब राजस्थान के करौली में भीड़ ने दो नेताओं के घरों को निशाना बनाया है। भीड़ ने मौजूदा विधायक राजकुमारी जाटव और पूर्व विधायक भरोसीलाल जाटव के घरों में आग लगा दी है।

ये दोनों नेता दलित समुदाय से आते हैं। मौजूदा विधायक राजकुमारी बीजेपी नेता हैं। जबकि पूर्व विधायक कांग्रेस के नेता हैं। बताया जा रहा है कि इलाके में सोमवार को हुई हिंसा के जवाब में आज सुबह यहां भीड़ जमा होने लगी। धारा 144 लागू होने के बावजूद धीरे-धीरे ये संख्या 40 हजार तक पहुंच गई।

कहा जा रहा है कि ये सभी लोग सोमवार को हुई हिंसा का विरोध कर रहे थे. इसी दौरान उन्होंने करौली से वर्तमान बीजेपी विधायक राजकुमारी जाटव के घर को निशाना बनाया। भीड़ ने उनका घर फूंक डाला। इतना ही नहीं भीड़ ने पूर्व विधायक को भी नहीं बख्शा। इलाके के पूर्व कांग्रेस विधायक भरोसीलाल जाटव के घर को भी आग के हवाले कर दिया।

भीड़ ने सिर्फ दलित नेताओं को ही निशाना नहीं बनाया। बल्कि संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाया। यहां एक मॉल में आग लगा दी गई। जिसके बाद भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। कहा जा रहा है कि इस मामले में पुलिस प्रशासन की बड़ी चूक सामने आ रही है।

TOPPOPULARRECENT