Sunday , April 22 2018

लखनऊ में तीन ​तलाक बिल के खिलाफ हजारों मुस्लिम महिलाओं का बड़ा प्रदर्शन

फोटो- न्यूज़ 18

केंद्र सरकार के ट्रिपल तलाक बिल के खिलाफ लखनऊ में रविवार को सैकड़ों मुस्लिम महिलाओं ने प्रदर्शन किया. आॅल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की तरफ से आयोजित इस प्रदर्शन में इमामबाड़े के पास टीले वाली मस्जिद पर सैकड़ों मुस्लिम महिलाएं शामिल हुईं. AIMPLB के बैनर तले हुए विशाल प्रदर्शन में मुस्लिम महिला आईटी सेल ने अपनी ताकत दिखाई. इस दौरान महिलाओं ने ऐलान किया कि बिल के ख़िलाफ़ वह सोशल मीडिया पर मुहिम छेड़ेंगीं.

उन्होंने कहा कि तीन तलाक बिल शरियत के खिलाफ है. इसे लागू नहीं किया जाना चाहिए.  इस प्रदर्शन में मौलाना सईदुररहमान आज़मी नदवी, मौलाना अब्दुल अलीम फ़ारूक़ी, मौलाना अब्दुल अली फ़ारूक़ी, मौलाना फज़ले मन्नान वाइज़ी, मौलाना इक़बाल क़ादरी, मौलाना जहांगीर आलम कासमी, मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली, मौलाना अब्दुल वली फ़ारूक़ी और ज़फरयाब जिलानी भी शिरकत कर रहे हैं.

दरअसल संसद में तीन तलाक बिल को लेकर आॅल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड पहले ही अपना विरोध जता चुका है. दिलचस्प बात ये है कि बिल पेश होने के साथ ही देश के कई हिस्सों में मुस्लिम महिलाओं ने बिल के पक्ष में प्रदर्शन किया था. कई जगह केंद्र सरकार को धन्यवाद दिया गया था. इसके बाद आॅल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की तरफ से भी प्रदर्शनों की शुरुआत हुई. लखनऊ में हुआ ये प्रदर्शन उसी मु​हिम का हिस्सा माना जा रहा है. इस बिल को लेकर पर्सनल लॉ बोर्ड और सरकार के मंत्रियों के बीच काफी बयानबाजी भी सामने आती रही है.

सोशल मीडिया व मस्जिदों से हुआ एलान

तीन तलाक बिल को लेकर रविवार को होने वाले प्रदर्शन को कामयाब बनाने के लिए महिलाओं ने सोशल मीडिया को बड़ा हथियार बनाया था.फेसबुक, वाट्सअप के जरिए महिलाओं से प्रदर्शन में शामिल होने की अपील की जा रही थी. इसके अलावा जुमे की नमाज के बाद मस्जिदों से भी प्रदर्शन में शामिल होने की अपील की गई थी. महिलाओं ने प्रदर्शन को यू ट्यूब व फेसबुक पर लाइव टेलिकास्ट करने की व्यवस्था भी की थी . ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के साथ इस प्रदर्शन को जमीयत उलमा हिन्द, सुन्नी बोर्ड ऑफ इंडिया समेत कई संगठनों का समर्थन भी प्राप्त था .

TOPPOPULARRECENT