Tuesday , November 21 2017
Home / Khaas Khabar / हल्द्वानी: एमबीपीजी कॉलेज में छात्रों ने की ख़ुदकुशी की कोशिश

हल्द्वानी: एमबीपीजी कॉलेज में छात्रों ने की ख़ुदकुशी की कोशिश

हल्द्वानी के एमबीपीजी कॉलेज में प्रवेश की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने ख़ुदकुशी की कोशिश की। छात्रों ने प्राचार्य भवन के सामने खुद पर पेट्रोल व मिट्टी तेल छिड़क कर काफी देर तक हंगामा काटा।

छात्रों की इस हरकत से कॉलेज में हड़कंप मच गया। सूचना पर एसपी, सिटी मजिस्ट्रेट, एसडीएम व सीओ भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और बल प्रयोग कर छात्रों को खदेड़ा गया। इस दौरान पूर्व छात्र संघ उपाध्यक्ष रोहित प्रकाश को हिरासत में ले लिया। तीन घंटे तक कॉलेज में अफरा-तफरी का माहौल बना रहा।

दरअसल, प्रवेश की समस्या को लेकर गुरुवार को प्राचार्य कक्ष के बाहर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के सदस्य धरना दे रहे थे। इस बीच छात्रसंघ के पूर्व उपाध्यक्ष रोहित कुमार के साथ ऋषभ भारती, हर्षित समर्थकों के साथ प्राचार्य कक्ष में घुस गए। जहां इन छात्रों की प्राचार्य डॉ. जगदीश प्रसाद से कहासुनी हो गई।

प्राचार्य ने 15 मिनट इंतजार करने के लिए कहा तो सभी छात्रनेता नारेबाजी करते हुए हंगामा करने लगे। इस बीच प्राचार्य कक्ष की छत पर चढ़कर पूर्व उपाध्यक्ष रोहित कुमार, ऋषभ भारती और हर्षित जोशी ने अपने ऊपर मिट्टी का तेल छिड़क लिया और आत्मदाह की धमकी देने लगे।

इसी बीच एक छात्र ने बरामदे की छत पर चढ़े छात्र-छात्राओं को भी मिट्टी तेल से भरी बोतल पकड़ा दी। उन्होंने छत व नीचे खड़े सभी छात्र-छात्राओं पर उसे छिड़कना शुरू कर दिया। इससे कॉलेज प्रशासन में अफरा-तफरी मच गई।

जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने पूर्व छात्र संघ उपाध्यक्ष रोहित कुमार व ऋषभ भारती को हिरासत में लिया और कोतवाली ले गए। सिटी मजिस्ट्रेट पंकज उपाध्याय, एसडीएम एपी बाजपेई, सीओ दिनेश चंद्र ढौडियाल कॉलेज में पहुंचे और कॉलेज में शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए प्राचार्य से बातचीत की।

प्राचार्य का कहना था कि कुछ लोगों के बवाल करने से कॉलेज बंद करने की घोषणा करनी पड़ी है। प्राचार्य की तहरीर पर पुलिस ने रोहित कुमार, हर्षित जोशी, रोहित रावत, ऋषभ भारती और मीमांसा आर्या के खिलाफ नामजद और अन्य 50-60 के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज किया है।

वहीं कोतवाली में लाते ही पूर्व छात्र संघ उपाध्यक्ष रोहित प्रकाश की हालत बिगड़ गई। इससे कोतवाली में मौजूद जवानों में अफरा-तफरी मच गई। तुरंत पुलिसकर्मी उसे बेस अस्पताल लेकर पहुंचे। रोहित को बेस में भर्ती कर उपचार शुरू कर दिया गया है।

TOPPOPULARRECENT