Saturday , December 16 2017

मुसलमान सरयू पार मस्जिद बनाने की बात मान लें वरना मोदी सरकार मंदिर निर्माण के लिए कानून लाएगी: सुब्रमण्यम स्वामी

नई दिल्ली: राम मंदिर मुद्दे को लेकर मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट के सुझाव के बाद से दोनों पक्षों में ज़ुबानी जंग छिड़ गई है। इस बहस में अब विवादित बयान के लिए पहचाने जाने वाले भाजपा नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी भी कूद पड़े हैं। उन्होंने कहा है कि मुस्लिम सरयू पार मस्जिद बनाने का प्रस्ताव मान लें वरना उनकी सरकार क़ानून ले आएगी।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

ट्विटर पर राम मंदिर मुद्दे को लेकर बुधवार सुबह से भाजपा नेता ने कई कई ट्वीट कर चुके हैं। जिसमे से एक ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि मुस्लिम सरयू पार मस्जिद बनाने का प्रस्ताव मान लें वरना 2018 में राज्यसभा में बहुमत के बाद उनकी सरकार मंदिर के निर्माण के लिए कानून बनाने का काम करेगी।

यही नहीं दूसरे ट्वीट में चुनौती देते हुए स्वामी ने लिखा है कि सुप्रीम कोर्ट की अनुमति से 1994 से ही राम जन्मभूमि में रामलाला का अस्थायी मंदिर है और वहां पूजा भी जारी है। क्या यह कोई गिराने की हिम्मत कर सकता है?

बता दें कि राम मंदिर मुद्दे को लेकर मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि इस मुद्दे को अदालत के बाहर आपसी बातचीत से सुलझा लिया जाए। कोर्ट ने कहा था कि समस्या को न्यायिक रूप से हल करने की बजाय इसका शांतिपूर्ण समाधान निकालना बेहतर है।

TOPPOPULARRECENT