Thursday , April 19 2018

भाजपा में सौतेले बेटे जैसा सुलूक हुआ, दबा हुआ महसूस करता था, मगर अब आज़ादी का एहसास हो रहा है: शत्रुघ्न सिन्हा

नई दिल्ली: मोदी सरकार से संबंधित मामले उठाने वाले एक नये गैर सरकारी राजनितिक मोर्चा राष्ट्रीय मंच के सदस्य, सीनियर अभिनेता और सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा है कि भाजपा में उनके साथ सौतेले बेटे जैसा सुलूक किया गया है, उन्हें भाजपा में दबाव महसूस होता था, अब उन्हें आज़ादी का एहसास हो रहा है।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

उन्होंने कहा कि हम कुछ बेचैन दिमागों में राष्ट्रीय मंच का ख्याल काम कर रहा था, उसे शर्मिंदा करने के लिए उन्होंने घनश्याम तिवारी और केसी सिंह का खास कर शुक्रिया अदा किया। शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि राष्ट्रीय मंच का हिस्सा बनकर खुली हुआ में साँस लेने जैसा एहसास हो रहा है, उसमें शामिल होने के बाद में देश की लड़ाई के लिए अपने विचारों का आजाद होकर इज़हार कर सकता हूँ।

मैं बता नहीं सकता कि मैं खुद को कितना आजाद महसूस कर रहा हूँ, खुली हुआ मैं साँस लेने का मज़ा ही कुछ और है। इस सवाल के जवाब में कि उनकी पार्टी भाजपा ने उन्हें कभी भी बोलने से मना नहीं किया। उन्होंने कहा कि मेरी बुनियादी पार्टी भाजपा ने मुझे बोलने के अलावा कोई और काम करने नहीं दिया, मुझे महसूस होता था कि भाजपा मेरे साथ सौतेले जैसा सुलूक कर रही है, सच कहूँ तो मैं दबा हुआ महसूस करता था।

TOPPOPULARRECENT