चक्रवार्ती तूफान: पश्चिम बंगाल, ओडिशा सहित इन राज्यों में चेतावनी जारी!

चक्रवार्ती तूफान: पश्चिम बंगाल, ओडिशा सहित इन राज्यों में चेतावनी जारी!

बंगाल की खाड़ी में बना सुपर साइक्लोन एम्फन को लेकर ओडिशा, बंगाल समेत देश कई राज्य अलर्ट पर हैं।मौसम विभाग की ताजा जानकारी के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में उठे समुद्री चक्रवात एम्फन लैंडफॉल से पहले ओडिशा में कहर बरपा चुका है।

 

जागरण डॉट कॉम पर छपी खबर के अनुसार, वर्तमान में चक्रवात एम्फन पारादीप से पूर्व एवं दक्षिण पूर्व दिशा में तेजी से आगे बढ़ रहा है।पारादीप, चांदबली और बालासोर, पुरी में इस समय काफी तेज गति से हवाएं चल रही है। इसके शाम तक बंगाल पहुंचने की उम्मीद है।

 

लेकिन इस बीच देश के कई और राज्यों में इसका असर देखने को मिल रहा है। ये सभी वे राज्य है, जिनकी सीमाएं बंगाल या ओडिशा से जुड़ी हैं। इनमें झारखंड, यूपी, बिहार, छत्तीसगढ़ शामिल हैं।

 

एम्फन के प्रभाव से तटीय ओडिशा में बारिश जारी है। कई जगहों पर पेड़ उखड़ गए हैं। 1 लाख 37 हजार से अधिक लोगों को स्थानान्तरित कर लिया गया है। लैंडफाल के समय हवा की गति 155 से 165 किमी. तक रहने की सम्भावना है।

 

ओडिशा में लैंडफाल के बाद यह चक्रवाती तूफान कोलकाता के पास उत्तर एवं उत्तर पूर्व दिशा में यह गति करेगा।बुधवार को दोपहर से शाम के बीच यह बंगाल के दीघा-हातिया तट पर सुंदरवन के पास स्थल भाग से टकराएगा। तब हवा की गति 155 से 165 किमी. प्रति घंटा होगी।

 

चक्रवाती तूफान एम्‍फन का असर झारखंड के कोल्हान में दिखने लगा है। बीती रात से ही हल्की बूंदाबादी के बाद यहां आज का दिन भी बारिश के साथ शुरू हुआ है।

 

आसमान में बादल छाए हैं। कोल्‍हान के तीनों जिलों में प्रशासन ने पहले ही अलर्ट जारी कर रखा है और बिजली व्‍यवस्‍था बहाल रखने के लिए बिजली विभाग के कर्मचारियों की छुट्टियां रद कर दी गई।

 

छत्तीसगढ़ में ओडिशा की सीमा से सटे जिलों में एम्फन तूफान को लेकर अलर्ट किया गया है।

 

दरअसल, सोमवार दोपहर महासमुंद, बालोद जिलों में तेज आंधी के साथ बारिश तबाही लेकर आई थी। कई गांवों में टिन की छतें उड़ गई। सौ से अधिक पेड़ उखड़ गए। बिजली के पोल गिरने से 50 से अधिक गांवों की बिजली आपूर्ति बाधित हो गई है।

 

महासमुंद जिले के सरायपाली क्षेत्र स्थित कैलेंडा, छिबर्रा, कसलबा गांवों में अधिकांश घरों की टिन की छत उड़ गई थी। कलेंडा गांव में आंधी से एक घर भी दीवार ढह गई थी।

 

ऐसे में इन क्षेत्रों में तूफान का ज्यादा असर होने की आशंका है। तूफान के प्रभाव से मंगलवार को पूरे प्रदेश में बादल छाए हैं। दंतेवाड़ा में तेज आंधी चली है।

Top Stories