Tuesday , September 18 2018

महिलाओं के संबंध से बंधा बंधाया मानसिकता बदलने की जरूरत: सुषमा स्वराज

नई दिल्ली: महिलाओं पर हिंसा और उनके साथ दुर्व्यवहार पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए राज्य मंत्री सुषमा स्वराज ने आज कहा कि अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर पूरे देश को यह संकल्प लेना चाहिए कि वे महिलाओं के संबंध से अपने मानसिकता को बदल देंगे।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

समाज में महिलाओं की भूमिका की प्रशंसा पर राज्यसभा में चर्चा को पूरा करते हुए सुश्री स्वराज ने महिला बिल को कानून में बदलने की वकालत की, और कहा कि भारत में किसी आरक्षण के बगैर भी महिलाओं ने विकास किया है।

सुषमा स्वराज ने कहा कि “मैंने मिलों के लिए आरक्षण विधेयक के अनुमोदन का समर्थन किया है, हालांकि सुषमा स्वराज ने कहा मैं कह सकती हूं कि आरक्षण के बगैर भी भारतीय महिलाओं ने विकास किया है।

TOPPOPULARRECENT