विवादित गोलान हाइट्स में चुनाव कराने पर सिरिया ने इजरायल के खिलाफ UN को कर्रवाई करने का आग्रह किया

विवादित गोलान हाइट्स में चुनाव कराने पर सिरिया ने इजरायल के खिलाफ UN को कर्रवाई करने का आग्रह किया
Click for full image

दमिश्क : सीरियाई विदेश मंत्रालय ने संयुक्त राष्ट्र को दो पत्र भेजे हैं और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के अध्यक्ष ने उन्हें ड्रुज़ अरबों द्वारा विवादित गोलान हाइट्स में कई गांवों में नगरपालिका चुनाव कराने पर इजरायल के खिलाफ कर्रवाई करने का आग्रह किया है। सीरियाई राज्य संचालित सना समाचार एजेंसी के अनुसार, दमिश्क ने इजरायल पर आरोप लगाया है कि “कब्जे वाले सीरियाई क्षेत्रों में रहने वाले सिरियन” पर इजराइल यहुदीकरण निति अपना रहा है।

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, सैकड़ों ड्रुज़ अरबों ने क्षेत्र में सबसे बड़े ड्रुज़ समुदाय वाले शहर मेजर शम्स में मतदान स्थल के प्रवेश द्वार को अवरुद्ध करने की कोशिश की थी। इज़राइली पुलिस ने भी मतदाताओं के लिए एक रास्ता स्पष्ट करने के लिए भीड़ फैलाने के लिए आंसू गैस का इस्तेमाल किया। बाद में पुलिस ने पुष्टि की कि उन्होंने सैकड़ों प्रदर्शनकारियों को फैलाने के लिए “विशेष साधन” का इस्तेमाल किया था।

गौरतलब है कि इज़राइल गृह मंत्रालय गोलन हाइट्स में ड्रुज़ समुदायों को स्थानीय अधिकारियों के चुनाव की अनुमति देता है, और स्थानीय निवासियों से चुनाव में भाग लेने के लिए कहा है.

मंगलवार को, इज़राइल पूरे देश में नगर निगम चुनाव आयोजित किया है, जिसमें गोलन हाइट्स के कई ड्रुज़ गांवों को भी पहली बार शामिल किया है। इजरायली यरूशलेम जैसे प्रमुख शहरों के डेप्युटी और महापौरों की स्थानीय परिषदों का चुनाव कर रहे हैं। गोल्मन हाइट्स में रहने वाले कई ड्रुज़ अरब, 1967 के छः दिवसीय युद्ध के दौरान इजरायली क्षेत्राधिकार के तहत आए एक पहाड़ी पठार है, लेकिन यहां के निवासी अभी भी इन भूमियों पर इजरायली नियंत्रण को पहचानने से इनकार करते हैं और सीरियाई अधिकारियों के प्रति वफादार हैं।

इजरायली पुलिस का कहना है कि एक भीड़ ने इज़राइली कब्जे वाले गोलान हाइट्स में माजदल शम्स में मतदान करने से रोकने की कोशिश की। इज़राइली स्थानीय चुनाव 1967 से पहली बार वहां हो रहे हैं और कई ड्रुज़ वोट का विरोध कर रहे हैं क्योंकि वे इसे इजरायल के नियंत्रण में शामिल नहीं मानते है । इजराइल ने 1981 में गोलान हाइट्स को कब्जा कर लिया था जिसे इस कदम को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता नहीं दी गई है।

20,000 से अधिक ड्रुज़ गोलान हाइट्स में रहते हैं। इज़राइल उन्हें और एकीकृत करने की कोशिश कर रहा है और अल्पसंख्यक नागरिकता की पेशकश की है। हालांकि, कई स्थानीय लोग खुद को सीरियाई नागरिकों के रूप में पहचानना जारी रखते हैं।

Top Stories