तबरेज़ अंसारी मॉब लिंचिंग पर सख्त हुआ अल्पसंख्यक आयोग, कहा- ‘बर्दाश्त नहीं’

तबरेज़ अंसारी मॉब लिंचिंग पर सख्त हुआ अल्पसंख्यक आयोग, कहा- ‘बर्दाश्त नहीं’

झारखंड में एक मुस्लिम युवक के साथ हुई मॉब लिंचिंग की घटना के बाद राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग हरकत में नज़र आ रहा है। इस मामले की वीडियो वायरल होने के बाद राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्य्क्ष गय्यरुल हसन ने झारखंड के सीएम रघुवर दास और राज्य के मुख्य सचिव से बात की हैं। राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग की तरफ से कहा गया है कि भीड़ के ज़रिए की जानी वाली हिंसा सभ्य समाज मे स्वीकार्य नहीं।

राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्य्क्ष गय्यरुल हसन ने कहा कि जिस युवक को पीटा गया उस पर चोरी का इल्ज़ाम था, पुलिस ने इस बात की तस्दीक़ की है, लेकिन तब भी किसी को ये हक़ नहीं, को वो आरोपी शख्स को पीटे या जबदस्ती नारे लगवाएं। हमने राज्य सरकार से कहा है कि इस मामले में शामिल लोगों के ख़िलाफ सख्त कार्रवाई करें।

झारखंड के खरसवां में चोरी करने के शक में भीड़ ने मुस्लिम युवक पर जमकर हमला किया था। पुलिस को सौंपने से पहले भीड़ ने उसकी 18 घंटे से ज्यादा पिटाई की।

ज़ी न्यूज़ पर छपी खबर के अनुसार, युवक को घायल अवस्था में अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां शनिवार को उसकी मौत हो गई। युवक की पहचान 24 साल के तबरेज अंसारी के रूप में हुई है।

मामला वीडियो वायरल होने की वजह से ज्यादा गर्माया, जिसमें नज़र आ रहा है कि भीड़ ना सिर्फ युवक को पीट रही है बल्कि जय श्री राम व जय हनुमान बोलने के लिए भी दबाव बना रही हैह भीड़ के जरिये होने वाली हिंसा के मामले लगातार सुर्खियां रहें और विपक्ष इन मामलों को लेकर सरकार पर हमलावर रहा है।

Top Stories