Saturday , September 22 2018

TDP के अलग होने के बाद बिहार को विशेष राज्य की मांग को लेकर नीतीश पर बढ़ा दबाव, मंत्रीयों ने की मांग

आंध्र प्रदेश के लिए विशेष राज्य के दर्जे की मांग को लेकर टीडीपी और केंद्र की एनडीए सरकार के बीच ठनी हुई है। इस बीच बिहार की तरफ से भी एक बार फिर ऐसी मांग उठी है।

बिहार सरकार में मंत्री माहेश्वर हजारी ने कहा है कि बिहार को भी विशेष दर्जा मिलना जरूरी है, ये मांग काफी लंबे समय से उठ रही है।

माहेश्वर हजारी ने कहा कि इस मुद्दे को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर सकते हैं। नीतीश इस मांग को पीएम के सामने दोहरा सकते हैं।

अभी हाल ही में बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने भी इस मांग को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री को खत लिखा था। बिहार पहले भी इस मांग को दोहराता रहा है।

तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार को लिखे खत में कहा था कि वर्तमान बिहार सरकार लोगों को यह कहकर भ्रमित कर रही है कि केंद्र और राज्य में एक ही गठबंधन की सरकार होने से विकास को गति मिलेगी मगर ऐसा कुछ भी नहीं हो रहा है।

मुख्यमंत्री को लिखे पत्र में तेजस्वी ने कहा था कि वर्तमान राज्य सरकार के अनुसार राज्य में डबल इंजन की सरकार है लेकिन इस नई सरकार के गठन के बाद अब तक सिर्फ अपराध की घटनाओं को ही डबल इंजन मिला है। तेजस्वी ने कहा कि केंद्र और राज्य सरकार किन्हीं अज्ञात वजहों से किसी प्रकार का कोई तालमेल नहीं बना पा रही है।

गौरतलब है कि आंध्र प्रदेश की टीडीपी-बीजेपी सरकार में इस मुद्दे को लेकर तकरार आ गई है। राज्य में बीजेपी कोटे के दो मंत्रियों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है, तो वहीं केंद्र में टीडीपी कोटे के मंत्री इस्तीफा दे सकते हैं।

TOPPOPULARRECENT