Saturday , July 21 2018

रामलला की सुरक्षा, रौशनी, एवं कपड़े सिलने की जिम्मेदारी ये 3 मुस्लिमों के पास

अयोध्या: बाबरी मस्जिद और राम मंदिर विवाद के बारे में तो लगभग सभी जानते हैं, लेकिन शायद ही कोई इस बात को जनता होगा कि पिछले दो दशकों से भी ज्यादा समय से राम लला का वस्त्र तैयार करने से लेकर रोशनी और सुरक्षा की जिम्मेदारी तीन मुस्लिम निभा रहे हैं।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

रिपोर्ट के मुताबिक, अब्दुल वाहिद, सादिक और महबूब वर्षों से राम लला मंदिर के लिए अपनी सेवाएं दे रहे हैं। अब्दुल वाहिद मंदिर की सुरक्षा चाक-चौबंद रखने में सहयोग करते हैं, तो सादिक राम जन्मभूमि मंदिर के मुख्य पुरोहित के लिए कपड़े तैयार करते हैं, और वहीँ महबूब आयोध्या के अधिकतर मंदिरों में चौबीसों घंटे बिजली की वयवस्था की जिम्मेदारी निभाते हैं।

बकौल सादिक, उन्होंने राम मंदिर-बाबरी मस्जिद विवाद के सभी पक्षकारों के लिए कपड़े तैयार किए हैं। इनमें हनुमानगढ़ी मंदिर के प्रमुख रामचंद्र दास परमहंस भी शामिल रहे हैं। सादिक बताते हैं कि वह और उनका बेटा पिछले 50 वर्षों से कपड़े सिलने का काम कर रहे हैं।

सादिक की सत्तावन वर्ष पुरानी ‘बाबू टेलर्स’ हनुमानगढ़ी मंदिर की जमीन पर ही स्थित है, जिसके लिए उनहोंने किराये के तौर पर प्रति माह 70 रुपये का भुगतान करते हैं। सुरक्षा का बीड़ा उठाने वाला वाहिद ने मैं एक भारतीय हूं और हिंदू मेरे भाई हैं।

TOPPOPULARRECENT