Tuesday , July 17 2018

उन का मुंह काला कर देना चाहिये, जो गाँधी और नेहरु का अपमान करते हैं: अज़ीज़ क़ुरैशी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के सिंगापुर के दौरे के दौरान जब वह वहां नेशनल यूनिवर्सिटी ऑफ सिंगापुर के ली क्वान स्कूल ऑफ पब्लिक पॉलिसी में पहुंचे, तो कार्यक्रम दौरान एशिया के रिबार्न के लेखक और प्रोफेसर पी के बासु ने राहुल गाँधी से तीखे-तीखे सवाल किये।

बासु के इस तीखे सवालों को लेकर पूर्व गवर्नर अज़ीज़ कुरैशी ने प्रतिक्रिया देते हुए प्रोफेसर की आलोचना की है। उन्होंने फेसबुक पर पोस्ट किया है कि कुछ दिनों पहले एक तथाकथित प्रोफेसर ने न केवल सिंगापुर की यात्रा के संबंध में राहुल गांधी की छवि को धूमिल करने की कोशिश की, बल्कि महात्मा गांधी, “भारत छोड़ो आंदोलन” और जवाहर लाल नेहरू को भी अपमानित किया।

अज़ीज़ कुरैशी ने गाँधी और नेहरू के लिए अपमानजनक टिप्पणी करने के लिए प्रोफेसर का कड़ा विरोध करते हुए कहा की इस तरह के बकवास के लिए उसे जूतों की माला पहना कर उसका चेहरे पर कालिख पोतनी चाहिए। ऐसा लगता है कि उन्होंने किसी रेड लाइट क्षेत्र में पीएचडी के लिए शोध किया था। किसी को भी ऐसे लोगों के कथनों को कोई नोटिस में नहीं लेना चाहिए।

दरअसल मामला ये है कि प्रोफ़ेसर बासु ने राहुल गांधी से सिंगापुर में एक कार्यक्रम के दौरान तीखा सवाल किया, जिसमे महात्मा गांधी और नेहरू परिवार की गरिमा पर कीचड़ उछाला और उन्हें बदनाम करने की कोशिश की।

प्रोफेसर पी के बासु ने कहा कि जब तक देश में नेहरू-गांधी परिवार का राज रहा, तब तक देश का विकास नहीं हुआ। जबकि अनीश मिश्रा नाम के एक व्यक्ति ने कहा कि आज भारत जो कुछ है, वह जवाहरलाल नेहरू की वजह से है।

TOPPOPULARRECENT