VIDEO- पहले ही भाषण में महफ़िल लुट ले गई ये महिला सांसद, मोदी सरकार की उधेड़ दी बखिया!

VIDEO- पहले ही भाषण में महफ़िल लुट ले गई ये महिला सांसद, मोदी सरकार की उधेड़ दी बखिया!

नयी दिल्ली :तृणमूल कांग्रेस  की नवनिर्वाचित सदस्य महुआ मोइत्रा ने मंगलवार को संसद में  अपने पहले ही भाषण से सत्ता पक्ष की बखिया उधेड़ दी। पहली बार सांसद चुनकर संसद पहुंची मोइत्रा ने अपने भाषण में बीजेपी सरकार पर करारा  हमला बोला।  उन्होंने एनआरसी, राष्ट्रीय सुरक्षा और मॉब लिंचिग जैसे मुद्दों पर सरकार को घेरा। उन्होंने कहा कि मतभेद इस देश का राष्ट्रीय चरित्र है उसे खत्म नहीं किया जा सकता।

मोदी सरकार पर देश को फासीवाद की तरफ ले जाने का आरोप लगाया और दावा किया कि राष्ट्रवाद के नाम पर देश को बांटा जा रहा है और वैज्ञानिक सोच को पीछे धकेला जा रहा है.

राष्ट्रपति के अभिभाषण पर लाए गए धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा में भाग लेते हुए महुआ ने दावा किया कि देश बहुत मुश्किल दौर से गुजर रहा है. नए तरह के राष्ट्रवाद के नाम पर लोगों को बांटा जा रहा है.

उन्होंने कहा कि एनआरसी और नागरिकता संशोधन विधेयक के माध्यम से एक समुदाय विशेष को निशाना बनाया जा रहा है. तृणमूल सांसद ने कहा कि आज भीड़ द्वारा हत्या का सिलसिला चल रहा है. देश को फासीवाद की तरफ ले जाया गया है. वैज्ञानिक सोच को पीछे कर दिया गया है.

महुआ ने कहा कि इस सरकार में 2.77 एकड़ भूमि (अयोध्या) की चिंता हो रही है, जबकि पूरे देश की चिंता करने की जरूरत है. उनके संबोधन के बाद भाजपा के निशिकांत दुबे ने नियमों का हवाला देते हुए कहा कि महुआ ने एनआरसी और अयोध्या मामले का उल्लेख किया जो अदालत में लंबित हैं. ऐसे में इनको रिकॉर्ड से हटाया जाना चाहिए.

इस पर तृणमूल कांग्रेस सौगत रॉय ने कहा कि दुबे और भाजपा के राजीव प्रताप रुढ़ी विपक्ष के लोगों की आवाज को बाधित करने की कोशिश कर रहे हैं. इस दौरान दोनों ओर से नोकझोंक की स्थिति भी देखने को मिली.

Top Stories