Sunday , May 27 2018

अयोध्या में कुल 14 राम मंदिर, हर मन्दिर के महंत का कहना है कि राम का जन्म यहीं हुआ!

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज मार्कंडे काटजू के ट्वीटर अकाउंट के अनुसार अयोध्या में कुल 14 राम मंदिर है और हर मन्दिर के महंत का बोलना है कि श्री राम का जन्म उन्ही के मन्दिर वाली जगह हुआ है। राजनीति में उन 14 मन्दिरो की बात नही होती। बाबरी मस्जिद गिराने का मकसद बस हिन्दू को खुश करके वोट बटोरना था और वो इसमे कामयाब भी रहे। उन्होने आगे कहा सुप्रीम कोर्ट के पूर्व जज मार्कंडे काटजू ने ट्वीटर में कहा की भारत वालो इतनी नफरत पालकर तुम क्या करोगे? मुस्लिम और दलित का सोचना है कि बहुसंख्यक समाज उनसे नफरत करता है। हिन्दू का सोचना है कि मुस्लिम देश से प्यार नही करते और दलित अपने आपको हिन्दू नही समझते। जो इनसब बातों से दूर है वही इस समय सबसे सुखी इंसान है।

वर्तमान सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा के ऊपर ही घूस लेने का केस चल रहा है। उसकी जांच नही करने दे रहे। जज लोया पर जांच नही होने दे रहे। एक-एक करके दंगो और अपराधी आरोपी बरी हो रहे है। महाभियोग को भी उप-राष्ट्रपति ने 50 सांसद के हस्ताक्षर होने के बावजूद ठुकरा दिया। पहले श्री राम और हनुमान का नाम सुनते ही भगवान याद आ जाते थे और मन अच्छा हो जाता था। अब राम का नाम सुनते ही दिमाग मे बीजेपी के और हनुमान सुनते ही बजरंग दल के गुंडे आ जाते है। भगवान का नाम खराब कर रहे है ये मूर्ख लोग।

वैसे एक और जानकारी दे दूँ अयोध्या में ढाई लाख से ज्यादा की जनसंख्या वाले नगर में सिर्फ और सिर्फ एक सौ एक मन्दिर हैं। धर्म की नगरी’ में मन्दिरों की यह संख्या उस अयोध्या नगर निगम द्वारा प्रमाणित की गई है जिसका पिछले दिनों उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने मय गाजे-बाजे के साथ गठन किया था। दरअस्ल, फैजाबाद सिविल कोर्ट के अधिवक्ता व आरटीआइ कार्यकर्ता गंगाराम निषाद ने पिछले दिनों अपने सूचना के अधिकार का इस्तेमाल करते हुए इस नगर निगम से पूछा था कि अयोध्या में कुल कितने मन्दिर, मस्जिद, धर्मशालाएं, गेस्ट हाउस और अस्पताल हैं? जवाब मिला अयोध्या के ढाई लाख से ज्यादा निवासियों के लिए अभी तक सिर्फ 59 शौचालय, 780 स्टैंड पोस्ट और 1156 इंडिया मार्क सेकेंड हैंडपम्प हैं। एक सौ एक मन्दिर भी हैं। शौचालयों की इतनी कम संख्या इस लिहाज से भी विचलित करती है कि प्रदेश सरकार शौचालयों के निर्माण में प्रदेश को देश भर में पहले स्थान पर लाने की दावेदार है।

TOPPOPULARRECENT